अवैध खनन से तैयार हो रही हैं करोड़ों की सड़कें

By: Amaresh Singh

Updated On:
13 Aug 2019, 08:41:17 PM IST

  • सरकार को राजस्व का लग रहा चूना

डिंडोरी। एक बड़ा और बेहद संवेदनशील मामला गाड़ासरई के पास का संज्ञान में आया है, जहां एक सड़क निर्माण कंपनी द्वारा लगभग 85 करोड़ की लागत से जिले की खनिज संपदा का अवैध रूप से दोहन कर तीन बड़ी और चौड़ी सड़कें बनाई जा रही हैं। जिससे राज्य सरकार को करोड़ो रुपयों की राजस्व क्षति हो रही है। बताया गया है कि गाड़ासरई से महज पांच किलोमीटर दूर मोहतरा के पास मुख्य मार्ग से लगभग 300 मीटर अंदर कथित कंपनी ने अपना कैम्प लगा रखा है।

बड़ी मशीनें काले कारनामे को अंजाम दे रही हैं
जहाँ तीन मोबाइल क्रेसर और अन्य बड़ी मशीनें अवैध खनन के काले कारनामे को अंजाम दे रही हैं।यहाँ महत्वपूर्ण बात यह है कि उक्त कंपनी को खनिज विभाग ने उक्त स्थल पर खनन संबंधी कोई भी स्वीकृति अब तक नहीं दी है और बावजूद इसके कंपनी द्वारा मौके से हजारों घन मीटर क्षेत्र से अवैध खनन कर खनिज संपदा निर्माणधीन सड़कों पर लगा दी है। इस मामले में जब मौके की पड़ताल की गई तो मौके पर खनन क्षेत्र में विस्फोटक का प्रयोग किये जाने संबंधी तैयारी कर मशीन के माध्यम से ***** गिराये जा रहे थे। जिसकी जानकारी नजदीकी थाने में भी नहीं है। ज्ञात हो कि डिंडोरी जिला नक्सल संभावित क्षेत्रों में आता है, ऐसे में सतर्कता और सुरक्षा के लिहाज से मामला बेहद संवेदनशील भी है। ऐसे में जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन की बगैर स्वीकृति विस्फोटक का प्रयोग गंभीर अपराध की श्रेणी में आता है।


इन सड़कों पर खप रही सामग्री
बताया गया है कि संबंधित कंपनी द्वारा जिन तीन सड़कों पर अवैध खनन कर माल खपाया जा रहा है, उनमें शिवरी-बोन्दर- कोसमडीह लंबाई 6.50 किलोमीटर ,लागत -9.31 करोड़,सक्का -अमरपुर -समनापुर लंबाई 28 किलोमीटर, लागत -36.33 करोड़ और सिवनीसंगम-गोराखपुर-गोपालपुर रोड लंबाई-29.10 किलोमीटर, लागत 39.31 करोड़ है। जो कि नेशनल डेवलपमेंट बैंक योजना से तैयारी की जा रही हैं।

Updated On:
13 Aug 2019, 08:41:17 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।