भुने हुए चने खाए, स्टेमिना बढ़ाएं, बिना थके काम करते जाएं

By: Vikas Gupta

Published On:
Jun, 12 2019 10:11 AM IST

  • एक मुट्ठी भुना चना दो चपाती के बराबर पौष्टिक है। इसलिए शाम के समय बतौर स्नैक्स इसे खाना लाभदायक है।

नेचुरल एनर्जी बूस्टर काला या भुना चना हर तरह से सेहतमंद है। यह भूख शांत करता है। माना जाता है कि एक मुट्ठी भुना चना दो चपाती के बराबर पौष्टिक है। इसलिए शाम के समय बतौर स्नैक्स इसे खाना लाभदायक है।

न्यूट्रीशन इंडेक्स : आयरन से भरपूर 100 ग्राम भुने चनों में 164 कैलोरी होती है। इसमें फाइबर, प्रोटीन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, मिनरल, विटामिन, कार्बोहाइड्रेट जैसे तत्त्व भी होते हैं। यह पोटेशियम, फैटी एसिड्स और नेचुरल सोडियम का बेहतरीन स्त्रोत है।

वजन घटाता :
छिलके सहित भुने चने में जिंक, मैग्नीशियम, कॉपर जैसे माइक्रोन्यूट्रिएंट्स पाए जाते हैं जो वजन कम करने के साथ एनीमिया की समस्या को दूर करता है।

पानी की पूर्ति :
फाइबर होने के कारण इसे खाने के बाद व्यक्ति को प्यास काफी लगती है। इस तरह ये खासतौर पर गर्मी में डिहाइड्रेशन की समस्या को दूर करता है।

अलग-अलग तरीके से खाएं : भुना या काले चने को सब्जी, स्प्राउट्स (उबले चने के साथ टमाटर, नींबू का रस, प्याज, पत्तागोभी, हरा धनिया को बारीक काटकर मिला लें), चाट और भेल के रूप में भी खाया जा सकता है।

इनके लिए मनाही-
पचने में थोड़ा भारी होने के चलते जिन्हें पेट संबंधी परेशानियां हों, वे इसे कम मात्रा या खाने से पहले डाइटीशियन से सलाह लेकर खाएं।

Published On:
Jun, 12 2019 10:11 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।