चम्बल बजरी खनन शुरू करने की मांग

By: Naresh Kumar Lawaniyan

Updated On:
10 Sep 2019, 01:48:56 PM IST

  • धौलपुर. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जिला धौलपुर के द्वारा चंबल बजरी के खनन को प्रशासन की निगरानी में प्रारंभ किए जाने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम जिला कलक्टर द्वारा ज्ञापन सौंपा। इस मौके पर जिला सह संयोजक राजू गुर्जर ने बताया कि जिले में आए दिन चंबल रेत के अवैध दोहन के चलते आपराधिक गतिविधियां बढ़ती जा रही हैं।

चम्बल बजरी खनन शुरू करने की मांग
बेरोजगार युवाओं को मिले रोजगार का साधन
एबीवीपी ने दिया मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन
धौलपुर. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जिला धौलपुर के द्वारा चंबल बजरी के खनन को प्रशासन की निगरानी में प्रारंभ किए जाने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम जिला कलक्टर द्वारा ज्ञापन सौंपा। इस मौके पर जिला सह संयोजक राजू गुर्जर ने बताया कि जिले में आए दिन चंबल रेत के अवैध दोहन के चलते आपराधिक गतिविधियां बढ़ती जा रही हैं। चंबल रेत के दोहन को अपराध ना बनाकर बेरोजगार नौजवानों को रोजगार बनाया जाए। जिसके लिए राष्ट्रीय चम्बल घडिय़ाल अभयारण्य को संरक्षित करते हुए चंबल नदी के रेत दोहन का सीमांकन कर रेता का खनन प्रारम्भ किया जाए। जिससे धौलपुर के युवाओं को रोजगार का साधन उपलब्ध होगा। जिले में रेता के अवैध खनन की वजह से हो रही आपराधिक गतिविधियों पर भी लगाम लगेगी तथा युवा बेरोजगार नौजवानों को रोजगार मिलेगा। इसके साथ ही सरकार से मांग की धौलपुर जिले की इस गंभीर विषय को सरकार प्रमुखता से संज्ञान में लेते हुए प्रशासन की निगरानी में चंबल रेत दोहन प्रारंभ किया जाए । इस मौके पर विभाग सह संयोजक अभिनव सिंह, छात्रसंघ अध्यक्ष राजन ठाकुर, योगेश त्यागी, सुमित पाल, अवधेश शर्मा, राहुल ठाकुर, आर्यन शर्मा, संदीप पहाडिय़ा, मयंक गुर्जर, अमित प्रताप, हिमांशु, हिमानी अग्रवाल, शिवानी शर्मा, मीनू त्यागी, नितेश, इकरा खान, साक्षी बघेला आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Updated On:
10 Sep 2019, 01:48:56 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।