एक दशक से शिक्षा विभाग में फर्जी डिग्री से कराते थे नियुक्तियां, यूपी एसटीएफ को इस तरफ मिली कामयाबी

By: Dheerendra Vikramadittya

Published On:
Jul, 20 2019 12:26 AM IST

    • यूपी एसटीएफ की गोरखपुर इकार्इ ने की कार्रवार्इ
    • एक दशक से सकि्रय था गिरोह
    • देवरिया में हुए दो लोग अरेस्ट
    • शिक्षक भर्ती में की जाती थी डिग्रियों का उपयोग

यूपी एसटीएफ (UP STF) को फर्जी डिग्री बांटने वाले गिरोह (Fake degree gang)के मामले में बड़ी सफलता हाथ लगी है। एसटीएफ की गोरखपुर इकार्इ UP STF field unit Gorakhpur) ने फर्जी डिग्री बनाने बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है। एसटीएफ ने यह कार्रवार्इ देवरिया में की है। पकड़े गए दोनों फर्जी डिग्री पर नौकरी भी कर रहे थे। एसटीएफ का दावा है फर्जी डिग्री पर नाैकरी कर रहे गिरोह के अन्य सदस्यों तक भी इनसे आसानी से पहुंचा जा सकेगा।

Read this also: बाहुबली अतीक अहमद की बढ़ रही दुश्वारी, सीबीआई ने देवरिया में फिर डाला डेरा

एसटीएफ एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्घ पंकज (STF SSP Satyarth Anirudhh Pankaj) के निर्देशन में शुक्रवार को गोरखपुर एसटीएफ इकार्इ (STF Gorakhpur) ने देवरिया में कार्रवार्इ की। एसटीएफ ने अश्वनी श्रीवास्तव व मुक्तिनाथ नामक दो लोगों को हिरासत में लिया। इनके पास से फर्जी डिग्री बरामद हुर्इ। बताया जा रहा है कि एक दशक से ये लोग फर्जी डिग्री (Fake degree) के अाधार पर लोगों को शिक्षा विभाग में नौकरियां दिलाने का काम करते थे। ये लोग साल 2010 से सकि्रय हैं।

Read this also:बिहार में जिसकी हो गई हत्या, वह गोरखपुर में इस हाल में मिला

Published On:
Jul, 20 2019 12:26 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।