VIDEO.... खानवास पीएचसी पर ग्रामीणों ने जड़ा ताला

By: Rajendra Kumar Jain

Published On:
Jul, 11 2019 05:45 PM IST

 
  • - चार घंटे बाद खोला

लवाण (दौसा)
खानवास ग्राम पंचायत स्थित आदर्श प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर सुबह ग्रामीणों ने ताला जड़ कर प्रदर्शन किया। स्टाफ के समय पर नहीं आने व इलाज नहीं करने पर ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा। बाद में चिकित्सा प्रभारी कमलेश सैनी पुलिस जाप्ते के साथ पीएसी पंहुचे।
पुलिस ने ताला खुलवाने के लिए ग्रामीणों से समझाइश की, लेकिन वे नहीं माने।बाद में सूचना पर डिप्टी सीएमएचओ बीएल मीणा व ब्लॉक सीएमएचओ सीताराम मीणा मौके पर पंहुचे और ग्रामीणों को स्टाफ पर कार्रवाई करने का आश् वासन देकर ताला खुलवाया। ग्रामीण सीताराम मीणा, शम्भूदयाल, पप्पू चौपड़ा, दामोदर मीणा, रामजीलाल और रामकिशन ने बताया कि स्टाफ की लापरवाही से एक करोड़ की लागत से बने आदर्श पीएचसी ग्रामीणों को सुविधा नहीं मिल रही है।

दिन रात रहेगे चिकित्सक व नर्स
डिप्टी सीएमएचो बी.एल.मीणा ने कहा कि अब आदर्श पीएचसी पर 24 घंटे एक चिकित्सक व एक महिला नर्स मौजूद रहेंगी। लोटवाड़ा में कार्यरत विजय मीणा को खानवास पीएचसी पर लगाया। लेब टेक्टिशियन सुरेश जागा को चिकित्सक कमलेश सैनी ने एक दिन पहले ही एपीओ किया था। डिप्टी सीएमएचचो ने कहा कि सुरेश जागा को खानवास पीएससी पर नही लगाया जाएगा और चिकित्सक के बारे में निदेशालय में सूचना देंगे।
चार घंटे के बाद पीएचसी का ताला खुलने के बाद भी चिकित्सक आधे घंटे तक अधिकारियों के साथ निरीक्षण करते रहे।आदर्श पीएचसी में 15 कर्मियों का स्टाफ है।
जिसमें से वर्तमान में पांच ही कार्यरत है। अधिकारियों ने केन्द्र में गंदगी व लेबर रूम पर ताला लटका देख नाराजगी जताई। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ओपी बैरवा ने बताया कि डिप्टी व ब्लॉक सीएमएचो से चिकित्सक की जांच कराई जाएगी। उसके बाद ही कार्रवाई होगी। अब अस्पताल समय पर खुलेगा।


पीएम आवास योजना की सूची की जांच के मामले ने पकड़ा तूल
लालसोट. उपखण्ड की शिवसिंहपुरा ग्राम पंचायत द्वारा अनुमोदित प्रधानमंत्री आवास योजना 2011 के नामों सूची का पंचायत समिति प्रशासन द्वारा जांच कराए जाने को लेकर खड़ा हुए विवाद ने बुधवार को और अधिक तूल पकड़ लिया। शिवसिंहपुरा ग्राम पंचायत के दर्जनों ग्रामीणों ने उपखण्ड अधिमकारी सुनील आर्य को ज्ञापन देकर ग्राम पंचायत पर प्रधानमंत्री आवास योजना 2011 की सूची में हेराफेरी व निर्माण कार्यो में अनियमितताओं के आरोप लगाते हुए जांच की मांग की है।
ज्ञापन में बताया कि ग्राम पंचायत ने प्रधानमंत्री आवास योजना की सूची में अपने चेहते लोगों का चयन कर पात्र व गरीबों को उनके हक से वंचित कर दिया है। पंचायत ने पिछले साढ़े चार साल के कार्यकाल में निर्माण कार्यों में अनियमितताएं करते हुए निर्धारित मापदंडों को दरकिनार कर दिया है।

ज्ञापन में पंचायत द्वारा पिछले साढ़े चार साल में कराए सभी निर्माण कार्यों की जांच कराते हुए सरकारी योजनाओं का लाभ पात्र ग्रामीणों को दिलाने की मांग की है।
इस दौरान प्रकाश मीना, जयराम मीना, कन्हैयालाल मीना, मीठालाल, सांवलराम, धन्ना मीना, प्रहलाद मीना, बाबूलाल मीना, कैलाश मीना समेत कई जने मौजूद थे। गौरतलब है कि मंगलवार को शिवसिंहपुरा ग्राम पंचायत के सरपंच हरकेश मटलाना की अगुवाई में दर्जनों ग्रामीणों ने ग्राम पंचायत द्वारा अनुमोदित प्रधानमंत्री आवास योजना 2011 के नामों सूची का पंचायत समिति प्रशासन द्वारा जांच कराए जाने का विरोध जताते हुए जांच दल को भी कार्यालय से बाहर नही निकलने दिया था।

Published On:
Jul, 11 2019 05:45 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।