मासूम की हत्या कर गड्ढे में दबाया शव

By: Gaurav Kumar Khandelwal

Published On:
Jun, 12 2019 07:48 AM IST

 
  • बारात में आए बालक को उठा कर ले गया आरोपी, पिता की रंजिश पुत्र पर निकाली

महुवा. मण्डावर थाना इलाके के राजगढ गांव में सोमवार रात एक जने ने 7 वर्षीय एक मासूम की डंडे व पत्थरों से पीट- पीट कर हत्या कर शव को खेत में दबा दिया। शक के आधार पर पुलिस ने आरोपी को पकड़ कर उससे कड़ाई से पूछताछ की तो उसने हत्या कर शव को खेत में गड्ढा खोद कर दबाना स्वीकार कर लिया। ठेकड़ा निवासी राजेश कुमार मीना व नटवर मीना ने बताया कि महुवा के ठेकड़ा गांव से सोमवार को कालूराम के पुत्र की राजगढ़ बारात गई थी। इसमें दूल्हे के परिवार में भाई लगने वाला अंशु (7) पुत्र रामभरोसी मीणा भी बारात में आया था। इस दौरान बारात में आए धन्तूरी निवासी प्रशांत उर्फ रोहताश पुत्र लक्ष्मी नारायण मीणा तोरण के समय मासूम को अकेला पाकर उसे बहला-फुसला कर ले गया।

 

 

आरोपी ने बालक को दुल्हन के घर से कुछ ही दूर ले जाकर डंडे और पत्थर से पीट - पीटकर उसकी हत्या कर दी और खेत में गड्डा खोद कर शव को दबा दिया। परिजनों को जब बालक दिखाई नहीं दिया तो सभी ने मिल कर उसे ढूंढने का प्रयास किया, लेकिन वह नहीं मिला। इस दौरान आरोपित भी वहां से गायब था, तो उन्होंने शक के आधार पर प्रशांत को पकड़ कर मंडावर थाना पुलिस के हवाले कर दिया। जहां रातभर पुलिस और परिजनों के पूछताछ करने पर भी उसने उन्हें कुछ नहीं बताया।

 

 


पुलिस को भी घुमाता रहा आरोपी


इस पर पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की तो उसने बताया कि उसे 2 घंटे का समय दो वह स्वयं ब'चे को वापस ला कर दे देगा। इसके बाद वह परिजन व पुलिस लेकर वापस अपने गांव आ गया। जहां उसने बताया कि उसने ब'चे को जिस व्यक्ति को सौंपा था। उसके मोबाइल नम्बर एक कागज में लिखे हुए थे, जो उसे नहीं मिल रहा है। इसके बाद वह उनको पाड़ली व गाजीपुर गांव में यह कह कर घुमाता रहा कि उसने उस व्यक्ति को ब'चा यहीं पर सौंपा था। वह यहीं आसपास रहता है।

 

 

इसके बाद पुलिस ने आरोपी से सख्ताई से पूछताछ की तो वह उन्हें वापस राजगढ़ लेकर आ गया। जहां उसने दुल्हन के मकान से कुछ ही दूर खेत में बालक को मार कर गाड रखा था। पुलिस शव को निकाल कर मण्डावर सामुदायिक अस्पताल ले गई। वहां पर पोस्टमार्टम करा कर शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया। घटना का पता लगते ही विधायक ओमप्रकाश हुड़ला, पुलिस उपाधीक्षक शंकरलाल मीना, मंडावर थाना प्रभारी अशोक झांझाडिया, महुवा थाना प्रभारी अमित कुमार भी मौके पर पहुंच गए।

 


3 दिन पहले ही हुई थी कहासुनी


ग्रामीणों ने बताया कि आरोपित प्रशांत और अंशु के पिता राम भरोसी के बीच तीन दिन पहले मोटर की केबल चोरी करने के मामले को लेकर आपसी कहासुनी हुई थी। जिसे लेकर उसने मासूम को बदला लेने की नीयत से मौत के घाट उतार दिया। ग्रामीणों ने बताया कि राम भरोसे के एक ही बेटा था और एक बेटी है। इधर घटना की जानकारी मिलते ही अस्पताल में भीड़ एकत्रित हो गई। परिजनों को देखकर वंहा मौजूद लोग भी अपने आंसू रोक नही पा रहे थे। (महुवा/ ग्रामीण)

Published On:
Jun, 12 2019 07:48 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।