सड़कों पर आवारा मवेशियों का लगा रहता है जमावड़ा

By: Sanket Shrivastava

Published On:
Aug, 13 2019 09:15 AM IST

  • नगर पालिका परिषद नहीं दे रही ध्यान

हटा. नगर की मुख्य सड़क रिहायशी ओर कारोबारी इलाके सड़क पर मवेशियों की धमाचौकड़ी से परेशान हैं। साथ ही दुर्घटनाएं भी हो रही हैं, लेकिन नगर पालिका परिषद इन मवेशियों को हांकने का कोई इंतजाम नहीं कर रही है। सड़क पर मवेशियों के जमावड़े की समस्या अस्पताल से चंडी जी नाका, अंधियारा बगीचा, मंदिर मस्जिद चौराहा, राज चौराहा, बस स्टैंड में कमोवेश एक ही है। रात के समय तो सड़क पर बड़ी संख्या में मवेशी बैठे देखे जा सकते हैं। फोर लाइन सड़क पर भारी वाहन तेजी से निकलते हैं। कई वाहन जानवरों को बचाने के चक्कर में तेज गति से आने वाले वाहन अपना नियंत्रण खो देते हैं। मवेशी भी टकराकर घायल हो जाते हैं। रात के समय मवेशियों की संख्या बढ़ जाती है। नगर में इन मवेशियों की मुख्य वजह नगरपालिका के अंतर्गत कांजी हाउस का न होना है, यदि नगर में कांजी हाउस संचालित होती, तो इनसे होने वाली दुर्घटनाओं में इजाफा हो रहा है। मवेशियों के जमावड़े का एक कारण रहवासी क्षेत्रों में सड़कों पर पड़े कूड़े के कारण भी होती है। मवेशी कचरा घरों के आसपास भटकते नजर आते हैं। जिससे अक्सर वाहन चालकों और पैदल चलने वालों को परेशानियां होती है।
बाजारों में मवेशी रात के समय दुकानों के सामने बैठे नजर आते हैं। रात के समय जानवर गंदगी कर देते हैं, इससे बचने के लिए दुकानदार दुकान के सामने जानवरों के न बैठ पाने के उपाय भी करते हैं। वहीं दिन में भी आवारा मवेशियों से दुकानदार अत्यधिक परेशान हैं। पिछले दो दिनों में बड़ा बाजार में दो सांडों की आपस में भिड़ंत हो जाने के कारण दोनों सांड एक बर्तन दुकान में घुस गए थे। जिससे दुकान को चकनाचूर कर दिया था। जहां दुकानदार का हजारों का सामान बर्बाद हो गया था। वहीं मंदिर मस्जिद चौराहे पर इसी महीने रात्रि में दो सांड के लडऩे से कई गाडिय़ां क्षतिग्रस्त हुईं थीं।

Published On:
Aug, 13 2019 09:15 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।