दमोह में ये है हालात, सड़क खोदकर चले गए लोग,7 दिन बाद भी नो एक्शन Video

By: Samved Jain

Updated On:
17 May 2019, 02:26:34 PM IST

 
  • Watch Video

दमोह. शिवाजी स्कूल से पुराना थाना को जोडऩे वाली यह मुख्य सड़क एक सप्ताह पहले खोदी गई थी। सड़क को खोदने का काम एक दिन में होने के बाद कोई यहां काम करने नहीं पहुंचा। अब सड़क खुदने के कारण यहां रोजाना दुर्घटनाएं हो रही हैं। वाहन फंसने लगे है। करीब एक दर्जन वार्डों को जोडऩे वाला यह एकमात्र मुख्य मार्ग है। जो इन दिनों राहगीरों की परेशानी का कारण बना हुआ है।
मामले में जब पत्रिका टीम ने पड़ताल की तो पता चलता है यह खुदाई पेयजल योजना की पाइप लाइन डालने के लिए की गई थी, लेकिन काम बंद क्यों हो गया कोई भी बताने तैयार नहीं है। यहां रहने वाले और इस मार्ग से गुजरने वाले लोगों से बात की गई तो वह सिर्फ परेशानी बयां करते नजर आए। मामले में जब विधायक से चर्चा की गई तो उन्होंने बात को जल्दी केच किया और कह दिया कि सब गड़बड़ चल रहा है। अब सुधार करते है।
रफ्तार से शुरू हुआ काम अब हो रहा ठप
मुख्यमंत्री पेयजल योजना के तहत पूरे शहर में नवीन पाइप लाइन बिछाने का कार्य 2017 से चल रहा है। करीब 27 करोड़ के इस प्रोजेक्ट को जयंती कंट्रक्शन गुजरात को ठेका दिया गया है। भाजपा शासन में शुरु हुआ यह प्रोजेक्ट इन दिनों अधर में है। शहर के कुछ वार्डों में जरूर पाइप लाइन बिछाकर शुरू कर दी गई है, लेकिन अधिकांश वार्ड अब भी नई पाइप लाइन का इंतजार कर रहे है। चुनाव और नई सरकार के साथ ठेकेदार के काम में भी परिवर्तन देखने मिल रहा है। जबकि नगरपालिका के इंजीनियर और अधिकारी सिर्फ एक-दूसरे पर दोषारोपण कर कार्य से बचते नजर आ रहे है।

दमोह में ये है हालात, सड़क खोदकर चले गए लोग,7 दिन बाद भी नो एक्शन Video

Updated On:
17 May 2019, 02:26:34 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।