दिल्ली होटल अग्निकांड को लेकर सरकार ने दिए मजिस्ट्रेट जांच के आदेश, पीएम मोदी ने भी जताया दुख

By: Dhiraj Kumar Sharma

Updated On:
12 Feb 2019, 11:52:36 AM IST

  • दिल्ली होटल अग्निकांड को लेकर सरकार ने दिए मजिस्ट्रेट जांच के आदेश, पीएम मोदी ने भी जताया दुख

नई दिल्ली। मंगलवार की सुबह राजधानी दिल्ली के लिए बुरे सपने की तरह साबित हुई। करोल बाग स्थित होटल में भीषण आग ने कई जिदंगियों को अपनी चपेट में ले लिया। इस अग्निकांड में 17 लोगों ने अपनी जान गंवा दी। इस भीषण हादसे को लेकर सरकार ने मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दे दिए हैं। उधर अग्निकांड में अपनी जान गंवाने वालों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी संवेदनाएं व्यक्त कीं। पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा कि मुझे काफी दुख है जिन लोगों की हादसे में जान गई है भगवान उनकी आत्म को शांति दे और उनके परिवार को दुख सहने की शक्ति।


आपको बता दें कि राजधानी दिल्ली के करोलबाग में स्थित होटल अर्पित पैलेस अग्निकांड में मौत का आंकड़ा 17 तक पहुंच गया है। मंगलवार तड़के जब लोग होटल में सो ही रहे थे तो शॉर्ट सर्किट से आग लगी और फैलती चली गई। शुरुआत में तो आग दूसरे फ्लोर पर थी, लेकिन उसके बाद तीसरे और चौथे फ्लोर पर भी आग फैली। शुरुआती जांच में सामने आया है कि होटल की लापरवाही के कारण ही आग फैली और मौत का आंकड़ा बढ़ता चला गया।

 

इस वजह से फैलती चली गई आग
दिल्ली के होटल अर्पित पैलेस आग बुझाने पहुंचे अग्निशमन अधिकारी की मानें तो होटल में अधिकतर काम लकड़ी से हुआ था। यही कारण रहा कि आग फैलती चली गई और पूरा होटल धुएं के गुबार से भर गया। अधिकारी के मुताबिक, ना सिर्फ फ्लोर की गैलरी बल्कि सीढ़ियों के पास भी लकड़ी का कवर लगा हुआ था। लकड़ी होने के कारण आग फैलती चली गई। इसके अलावा सीढ़ियां काफी संकरी थीं, जिसकी वजह से किसी भी व्यक्ति का तेजी से उतरना इतना आसान नहीं था।

 

इस आग की घटना में बर्मा के दो लोगों की मौत हो चुकी है। बताया जा रहा है कि बर्मा से 8 लोगों का ग्रुप आया था, जिनमें 2 लोग के शव की पहचान हुई है। होटल कर्मचारी हरी सिंह ने बताया कि होटल में कुल 65 कमरे हैं, जिनमें से सभी भरे हुए थे। 20 से 25 होटल का स्टाफ भी था।

Updated On:
12 Feb 2019, 11:52:36 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।