अहमदाबाद सोसाइड केसः इस वजह से बच गई कुणाल की मां, नहीं रहती थी बेटे की इस बात से खुश

dheeraj sharma

Publish: Sep, 12 2018 02:34:10 PM (IST)

दिल्ली के बुराड़ी के बाद गुजरात में भी दिल दहला देने वाली घटना, काले जादू के चक्कर में एक परिवार के तीन सदस्यों ने की आत्महत्या

नई दिल्ली। दो महीने के अंदर परिवार के सामूहिक खुदकुशी के दूसरे मामले ने पूरे देश को हिला कर रख दिया है। बुराड़ी कांड के बाद अहमदाबाद में भी एक ही परिवार के तीन सदस्यों ने आत्महत्या कर ली। खास बात यह है कि इस खुदकुशी के मामले में परिवार की चौथी सदस्य बच गई है। आइए जानते हैं जब पूरे परिवार ने मौत को गले लगाया तो फिर कैसे ये चौथी सदस्य बच गई।

कुणाल की मां पर नहीं हुआ जहर का असर
पुलिस के मुताबिक कविता और उनकी बेटी श्रीन ने जहरीली दवा पीकर आत्महत्या की है। जबकि घर की बुजुर्ग महिला यानी कुणाल की मां बेहोश हालत में मिलीं। कुणाल की मां ने भी जहरीली दवा पी थी, हालांकि उन पर इस दवा का असर ज्यादा नहीं हुआ, फिलहाल वो अस्पताल में भर्ती है।

सोसाइड नोट में कुणाल ने किया खुलासा
कुणाल की मां क्यों बच गई इसके पीछे की वजह काला जादू में विश्वास न होना बताई जा रही है। दरअशल कुणाल की मां ने अपने बेटे की आदत से परेशान थी और वो बेटे को हमेशा तंत्र-मंत्र और काला जादू से दूर रहने की बात कहती थी। कुणाल ने खुद इस बात का खुलासा अपने सोसाइड नोट में किया है।


ये था सोसाइड नोट
पुलिस को जांच के दौरान उनके कमरे से एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें लिखा है "मम्मी आप मुझे कभी भी समझ नहीं पायी, मैंने कई बार इस काली शक्ति के बारे में बताया था लेकिन आपने कभी उसे माना नहीं और शराब को उसका कारण बताया." सुसाइड नोट में ये भी लिखा कि वे कभी भी आत्महत्या नहीं कर सकते हैं, लेकिन काली शक्तियों की वजह से आत्महत्या कर रहे हैं।

जिग्नेशभाई ये आप की जवाबदेही है. शेर अलविदा कह रहा है. सभी ने ये स्थितियां देखी हैं. कुणाल की ये स्थितियां देखी हैं लेकिन कोई कुछ नहीं कर सकता था. क्योंकि जितना मां कविता कर पाती थी, वो करती थी. उसका विश्वास था कि कुल देवी आएगी और उसे बचाकर निकाल लेगी।

आपको बता दें कि परिवार के मुखिया कुणाल त्रिवेदी अपने परिवार के साथ नरोदा के अवनी स्काई में किराए के फ्लैट में रहते थे। बताया जा रहा है कि दिल्ली के बुराड़ी कांड की तरह घर के मुखिया 45 वर्षीय कुणाल खुद को फांसी लगाई थी। जबकि उसकी पत्नी कविता और 16 वर्षीय बेटी श्रीन की लाश घर में पड़ी मिली।

 

 

More Videos

Web Title "Ahmedabad naroda family suicide case how mother not die"