पाकिस्तान की भारत के खिलाफ दो शर्मनाक हार के बाद नाराज़ जावेद मियांदाद

By: Siddharth Rai

Published On:
Sep, 26 2018 12:21 PM IST

  • ये पहली बार है जब एक ही टूर्नामेंट में भारत और पाकिस्तान इतने मैच खेल रहे हैं। लेकिन इस टूर्नामेंट में पाकिस्तान का भारत के खिलाफ प्रदर्शन बेहद शर्मनाक रहा है। पाकिस्तान दोनों मुकाबले एकतरफ़ा हार गया जिसके बाद पाकिस्तान के पूर्व खिलाड़ियों का गुस्सा मीडिया पर जमकर फूटा।

नई दिल्ली। एशिया कप 2018 अपने आखिरी दौर पर है। यूएई में खेले जा रहे इस टूर्नामेंट में भारतीय टीम ने शानदार प्रदर्शन किया है। इस टूर्नामेंट में आकर्षण का केंद्र भारत और पाकिस्तान का मैच रहा। भारत और पाकिस्तान अब तक दो मैच खेल चुकी है और अगर बुधवार को पाकिस्तान बांग्लादेश को हरा देता है तो ते दोनों टीमें तीसरी बार इस टूर्नामेंट में आमने सामने होंगी। ये पहली बार है जब एक ही टूर्नामेंट में भारत और पाकिस्तान इतने मैच खेल रहे हैं। लेकिन इस टूर्नामेंट में पाकिस्तान का भारत के खिलाफ प्रदर्शन बेहद शर्मनाक रहा है। पाकिस्तान दोनों मुकाबले एकतरफ़ा हार गया जिसके बाद पाकिस्तान के पूर्व खिलाड़ियों का गुस्सा मीडिया पर जमकर फूटा।

ऐसे खिलाड़ी टीम में रहने के लायक नहीं -
पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी जावेद मियांदाद ने टीम की जमकर आलोचना की। मियांदाद ने कहा कि "ख़राब घरेलू ढांचे की वजह से पाकिस्तान टीम की ये हालात है। हमने सिर्फ अपने से लोअर रैंकिंग में मौजूद टीमों के खिलाफ अच्छा किया है। मैदान पर ऐसा लगा रहा है खिलाड़ी कैचिंग का अभ्यास कर रहें हैं।” इतना ही नहीं भारत के खिलाफ पाकिस्तान टीम ने रोहित शर्मा का आसान कैच छोड़ दिया था जो उन्हें बाद में बेहद महंगा पड़ा और रोहित ने शतक जड़ दिया। इस पर मियांदाद ने नाराज़गी जाहिर करते हुए कहा " अगर आप इस तरह से कैच को छोड़ेंगे तो मुझे कहने में इस बात का दुख है कि आप नेशनल टीम में जगह तक बनाने के काबिल नही हो। आप को टीम में जगह नही मिलनी चाहिए।”

घरेलू ढांचे पर उतरा गुस्सा -
मियांदाद पाकिस्तान क्रिकेट के घरेलू ढांचे को लेकट बेहद नाराज़ हैं। उन्होंने इस बारे में कहा "देश में अब हमे वनडे क्रिकेट को बढ़ावा देना होगा। हमे सीनियर खिलाड़ियों को भी उसमे खेलने के लिए कहना होगा और इस प्रतियोगिता में अच्छा करने वाले खिलाड़ियों को ही वनडे टीम में जगह दी जानी चाहिए। क्रिकेट बोर्ड को भी अब इस दिशा में काम करना होगा। ऐसे में बोर्ड को चाहिए की वो पुराने खिलाड़ियों को लाए और उनसे इस मसले पर बात करें ताकि युवा खिलाड़ियों को अच्छा करने का मौका मिल सके। हमारे देश में कई युवा खिलाड़ी है। ऐसे में हमे जरूरत है कैसे इन युवा खिलाड़ियों का प्रयोग किया जाए।” बता दें अगर बुधवार को पाकिस्तान और बांग्लादेश के बीच खेले जाने वाले मैच में पाकिस्तान बांग्लादेश को हरा देता है तो पाकिस्तान फाइनल में पहुंच जाएगा और भारत से 28 सितम्बर को दुबई में भिड़ेगा।

Published On:
Sep, 26 2018 12:21 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।