जेम्स एंडरसन ने संन्यास लेने की बात को बताया अफवाह, कहा- अभी पूरी तरीके से हूं फिट

By:

Updated On:
13 Sep 2018, 08:02:53 PM IST

  • हाल ही में ग्लेन मैक्ग्रा के वर्ल्ड रिकॉर्ड को तोड़ कर टेस्ट क्रिकेट के सबसे सफल तेज गेंदबाज बनने वाले इंग्लैंड के जेम्स एंडरसन ने अपने रिटायरमेंट पर बड़ा बयान दिया है।

नई दिल्ली। टेस्ट क्रिकेट इतिहास के सबसे सफल तेज गेंदबाज बनने वाले इंग्लैंड के जेम्स एंडरसन ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से फिलहाल संन्यास लेने की खबरों का खंडन किया है। 36 साल के एंडरसन ने भारत के खिलाफ पांच टेस्टों की सीरीज में सर्वाधिक टेस्ट विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज बनने की उपलब्धि अपने नाम की थी। उन्होंने इस मामले में पूर्व आस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज ग्लेन मैकग्रा के रिकार्ड को तोड़ा था।

मैक्ग्रा का रिकॉर्ड तोड़ा-
एंडरसन ने पांचवें एवं अंतिम टेस्ट में भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी का विकेट लेने के साथ ही अपना 564वां विकेट हासिल किया और मैकग्रा के रिकार्ड को तोड़ दिया। यह उनका 143वां टेस्ट था। इस सीरीज की समाप्ति के साथ ही इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एवं ओपनर 33 साल के एलेस्टेयर कुक ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया था जिसके बाद एंडरसन के भी संन्यास को लेकर चर्चा होने लगी थी।

संन्यास पर ये बोले जिम्मी-
हालांकि एंडरसन ने तुरंत इस तरह के किसी फैसले से इंकार किया है। एंडरसन ने ब्रिटिश मीडिया से कहा कि मैंने मैकग्रा के बारे में पढ़ा है कि 2006 एशेज सीरीज में वह रिटायरमेंट के विचार के साथ नहीं उतरे थे लेकिन सीरीज समाप्ति के साथ ही उन्हें लगा कि उनका समय अब पूरा हो गया है। इंग्लिश तेज गेंदबाज ने कहा कि मेरे साथ भी ऐसा हो सकता था, कौन जानता है, लेकिन मैं इतना आगे का नहीं सोचता। मुझे नहीं लगता कि ऐसा करना मेरे लिये फायदेमंद होगा।

अगले दौरे की तैयारियों में लगे जेम्स-
एंडरसन ने 2003 में टेस्ट पदार्पण किया था और कहा कि फिलहाल उनके दिमाग में रिटायरमेंट का विचार नहीं है। उन्होंने कहा कि मैं अभी भी शारीरिक रूप से काफी सक्षम हूं। मैं फिलहाल अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर रहा हूं और अगले मैच और अगली सीरीज के बारे में सोच रहा हूं। इंग्लैंड की टीम अब नवंबर में श्रीलंका के टेस्ट दौरे पर जाएगी जिसके बाद अगले वर्ष वह वेस्टइंडीज का दौरा करेगी। एंडरसन ने कहा कि मैं अभी टीम के साथ विदेश दौरे पर जाऊंगा, हमें श्रीलंका दौरे से पहले ब्रेक मिलेगा और उस दौरान मेरी कोशिश उपमहाद्वीप की परिस्थितियों के अनुसार खुद को ढालना होगा ताकि मैं श्रीलंका में अच्छा खेल सकूं।

Updated On:
13 Sep 2018, 08:02:53 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।