pilgrimage: कांग्रेस सरकार बुजुर्गों के लिए लेकर आई बड़ी योजना, हवाई जहाज में घूमेंगे बुजुर्ग

By: Rakesh Kumar Goutam

Published On:
Jun, 24 2019 10:22 PM IST

  • pilgrimage: Government of the Congress took big plans for the elderly अब हवाई जहाज से विदेशी तीर्थ स्थलों की भी यात्रा कराएगी सरकार, पशुपतिनाथ काठमांडू सर्किट योजना में शामिल, रेल यात्रा में 2 और हवाई यात्रा में 3 नए सर्किट शामिल

     

     

चूरू.

जिले के वरिष्ठ नागरिक अब वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना के तहत विदेश भी जा सकेंगे। हवाई मार्ग से वरिष्ठ नागरिक नेपाल के काठमांडू, पशुपतिनाथ की निशुल्क तीर्थ यात्रा कर सकेंगे। पिछले दिनों पर्यटन एवं देवस्थान मंत्री विश्वेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में पर्यटन भवन में आयोजित राज्य स्तरीय समिति की बैठक में इस संबंध में निर्णय पारित किया गया। राज्यभर से इस वर्ष पांच हजार यात्री हवाई जहाज से एवं 5 हजार यात्री रेल से तीर्थ यात्रा पर जाएंगे। रेल यात्रा में 2 और हवाई यात्रा में 3 नए सर्किट जोड़े गए हंै। pilgrimage Yojana rajasthan government

 

 

जिला कलक्टर संदेश नायक ने बताया कि तीर्थ यात्रियों को नेपाल मेें पशुपतिनाथ-काठमांडू सर्किट में काठमंाडू तक हवाई जहाज से एवं वहां से आगे पशुपतिनाथ तक बसों के माध्यम से ले जाया जाएगा। गंगासागर-दक्षिणेश्वर काली-वेलूर मठ-कोलकता सर्किट में यात्रियों को कोलकाता तक हवाई मार्ग से और वहां से आगे बस के माध्यम से ले जाया जाएगा। देहरादून-हरिद्वार-ऋषिकेश सर्किट में तीर्थ यात्रियों को देहरादून तक हवाई जहाज में एवं वहां से आगे बस के माध्यम से ले जाया जाएगा। गौरतलब है कि यह तीन नए सर्किट इस वर्ष योजना में शामिल किए गए हैं। इससे पूर्व योजना में छह सर्किट शामिल थे जिन्हें बढ़ाकर 9 कर दिया गया है।


65 वर्ष के यात्री भी ले जा सकेंगे सहायक


योजना के तहत रेल से जाने वाले 65 वर्ष या इससे अधिक के नागरिक भी अब अपने साथ सहायक ले जा सकेंगे। गौरतलब है कि इससे पहले 70 वर्ष एवं इससे अधिक आयु के यात्रियों को ही सहायक ले जाने की अनुमति थी। मुख्य यात्री के साथ रेल यात्रा में जाने वाले पुरुष सहायक की आयु सीमा न्यूनतम 21 वर्ष से 50 वर्ष तक रखी गई है। इसके साथ ही सेवानिवृत्त सरकारी कार्मिक भी योजना का लाभ उठा सकेंगे। इससे पूर्व सेवानिवृत्त सरकारी कार्मिक योजना का लाभ उठाने के लिये पात्र नहीं थे।


अन्य महत्वपूर्ण निर्णय


किन्ही परिस्थितियों में रेल एवं हवाई यात्र के दौरान स्थान रिक्त रहने पर आवश्यकता अनुसार ऐसे इच्छुक पात्र व्यक्ति जिन्होंने आवेदन नहीं किया है लेकिन यात्रा के आवेदन के पात्र हैं, ऐसे व्यक्ति को रिक्त रही सीटों पर राज्य स्तरीय अनुमोदन उपरान्त भिजवाया जा सकेगा। हवाई यात्रा के दौरान 40 यात्रियों पर 1 अनुरक्षक 40 से 80 यात्रियों के लिये 2 एवं 80 से ज्यादा वरिष्ठ यात्रियों के लिये तीन अनुरक्षक जाएंगे। Senior Citizen Tirtha Yatra Yojana

 

रेल यात्रा में 2 नए सर्किट जोड़े


वर्ष 2019 के लिए प्रस्तावित वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा में रेल यात्रा में 2 नए सर्किट जोड़े गये हैं। श्रीगोवर्धन-नंदगांव-बरसाना-मथुरा-वृंदावन सर्किट एवं अजमेर (अजमेर शरीफ) दिल्ली (शेख निजामुदद्ीन औलिया की दरगाह) एवं फतेहपुर सीकरी आगरा (शेेख सलीम चिश्ती की दरगाह) सर्किट को इस वर्ष योजना में शामिल किया गया है। गौरतलब है कि इससे पूर्व रेल यात्रा में 6 सर्किट शामिल थे जिन्हें बढ़ाकर अब 8 कर दिया गया है।

 

पत्रकारों के लिये 5-5 प्रतिशत सीटें आरक्षित


तीर्थ यात्रा योजना में हवाई एवं रेल मार्ग पर ५-५ प्रतिशत सीटे पत्रकारों के लिए आरक्षित की गई हैं। योजना का लाभ 60 वर्ष या इससे अधिक आयु के पत्रकार ले सकेंगे। यात्रा से जुड़े सभी अधिकारी एवं यात्रियों के साथ गए अधिकारी एवं कार्मिक वाट्सएप ग्रुप के माध्यम से जुड़े रहेंगे ताकि उनके बीच समन्वय बना रहे। इसके साथ ही यात्रियों की सुविधा के लिए राज्य स्तर पर नियन्त्रण कक्ष स्थापित किया जायेगा।

 

पांच जुलाई से करें आवेदन


वरिष्ठ नागरिक तीर्थ योजना के लिये आवेदन की प्रक्रिया 5 जुलाई से शुरू होगी। आवेदन देवस्थान विभाग के पोर्टल पर दिए गए लिंक के माध्यम से ऑनलाइन स्वीकार किए जाएंगे। जिला कलक्टर नायक ने बताया कि आवेदक को आवेदन पत्र में अपनी पसंद के तीन तीर्थ स्थल वरीयता क्रम में अंकित करने होंगे।

Published On:
Jun, 24 2019 10:22 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।