देह व्यापार करते गिरफ्तार थाईलैण्ड की युवतियों की रिपोर्ट दूतावास को भेजी

By: Jitender Saran

Updated On:
25 Aug 2019, 11:04:03 PM IST

  • कोतवाली थाना क्षेत्र में शनिवार को पुलिस की विशेष टीम की ओर से एक होटल में संचालित स्पा सेंटर की आड़ में देह व्यापार करते पकड़ी गई थाईलैण्ड की पांच युवतियों, दो संचालकों व दो ग्राहकों को रविवार को न्यायाधीश के समक्ष पेश किया, जहां से दोनों स्पा संचालाकों को २८ अगस्त तक पुलिस रिमाण्ड पर सौंपा गया। जबकि पांचों युवतियों व दोनों ग्राहकों को न्यायिक अभिरक्ष में भिजवा दिया। पुलिस ने युवतियों की गिरफ्तारी को लेकर दूतावास को रिपोर्ट भेजी है।


चित्तौडग़ढ़
पुलिस अधीक्षक अनिल कयाल को सूचना मिली थी कि कोतवाली क्षेत्र में होटल कुंभा पैलेस में स्पा सेन्टर के नाम पर देह व्यापार चल रहा है। कयाल ने पुलिस उप अधीक्षक अश्विनी अत्रे के नेतृत्व में कुछ महिला सिपाहियों सहित विशेष टीम का गठन किया। टीम में महिला सिपाहियों को भी शामिल किया गया। इस टीम ने होटल में बोगस ग्राहक बनाकर भेजा। इशारा पाते ही टीम के सदस्यों ने स्पा सेंटर पर छापा मार दिया। छापे के दौरान वहां से थाईलैण्ड की पांच युवतियों व चार लोगों को पुलिस हिरासत में लेकर कोतवाली ले आई। पुलिस की इस विशेष टीम की कार्रवाई से रविवार को दूसरे दिन भी इस अवैध व्यवसाय से जुड़े लोगों में हड़कंप मचा रहा। पुलिस ने स्पा सेंटर से पांच युवतियों सहित संचालक झुंझुनू जिले के खेतड़ी थानान्तर्गत मानोता निवासी अमित (२४) पुत्र आत्माराम सेनी व झुंझुनूं जिले के ही गणेश नगर पिलानी निवासी सौरभ (२२) पुत्र बाबूलाल शर्मा, ग्राहक प्रताप नगर निवासी महेश (४८) पुत्र शांतिलाल जैन व गोपाल नगर निवासी गोपाल उर्फ कृष्ण गोपाल (३०) पुत्र लालाराम शर्मा को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने इनके कब्जे से १.९० लाख रूपए की नकदी भी बरामद की है। इन सभी के खिलाफ पुलिस ने पीटा एक्ट में मामला दर्ज किया है। कोतवाली थाना क्षेत्र के राणा सांगा बाजार इलाके में हुई इस पूरी कार्रवाई के बावजूद कोतवाली पुलिस को दूर रखा गया था। पूरे मामले की जांच भी सदर थाना प्रभारी नवनीत बिहारी व्यास को सौंपी गई है। पुलिस ने रविवार को न्यायालय में अवकाश होने के कारण गिरफ्तार सभी नौ आरोपियों को न्यायाधीश के समक्ष पेश किया, जहां से युवतियों व दोनों ग्राहकों को न्यायिक अभिरक्षा में भिजवा दिया गया। जबकि दोनों संचालक अमित व सौरभ को २८ अगस्त तक के लिए पुलिस रिमाण्ड पर सौंपा गया है।
इस मामले में स्पा सेंटर का मुख्य संचालक व होटल मालिक फरार हो गया है। इन दोनों की पुलिस तलाश कर रही है।
यूं पकड़ में आया मामला
पुलिस की ओर से बनाए गए बोगस ग्राहक ने स्पा सेंटर के संचालक से बातचीत की तो उसने बोगस ग्राहक से दो हजार रूपए लेकर एक लड़की से बातचीत की, जो अनैतिक संबंध के लिए तैयार हो गई। इस राशि में से एक हजार रूपए लड़की ने रखे और शेष एक हजार रूपए संचालक को दे दिए। इसी दौरान बोगस ग्राहक का इशारा पाकर पुलिस ने मसाज पार्लर पर छापा मार दिया। छापे के दौरान होटल के विभिन्न कमरों से दो युवतियों को गिरफ्तार किया गया। जबकि तीन युवतियां ग्राहकों के इंतजार में पाई गई।
थाईलैण्ड से विजिटर विजा पर लाते है युवतियों को
पुलिस पूछताछ में खुलासा हुआ है कि आरोपी सौरभ व अमित थाईलैण्ड से विजिटर विजा पर युवतियों को भारत लेकर आते हैं। यहां लाकर इनसे देह व्यापार करवाया जाता है। अवैध कमाई का आधा हिस्सा खुद रखती है और आधा हिस्सा संचालक को देती हैं।
आठ हजार रूपए मासिक मिलते
पुलिस पूछताछ में आरोपी युवतियों ने स्वीकार किया कि पार्लर में काम करने के लिए उन्हें आठ हजार रूपए मासिक मिलते हैं। इसके अलावा जिस्मफरोशी के लिए अलग से रूपए मिलते थे। आरोपी ग्राहकों से दो से तीन हजार रूपए लेते थे और उन्हें अपना पक्का ग्राहक बना लेते थे। पुलिस अब उन ग्राहकों के बारे में भी छानबीन कर रही है, जो वहां अक्सर जाते रहे हैं। सेक्स रैकेट के मुख्य संचालक दिनेश शर्मा की भी पुलिस तलाश कर रही है, जो अभी फरार चल रहा है।

Updated On:
25 Aug 2019, 11:04:03 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।