कृष्ण भक्ति की बही ऐसी रसधारा की डूब गए श्रोता

By: Nilesh Kumar Kathed

Updated On:
11 Sep 2019, 01:52:42 PM IST

  • जलझूलनी एकादशी पर आयोजितश्रीसांवलियाजी मेले में रात मन्दिर परिसर के सामने हुई आतिशबाजी के रंगीन आतिशी नज़ारों ने मेलार्थियों को मुग्ध कर दिया। हजारों मेलार्थियों ने आतिशबाजी का आनंद लिया।


चित्तौडग़ढ़/भदेसर. जलझूलनी एकादशी पर आयोजितश्रीसांवलियाजी मेले में रात मन्दिर परिसर के सामने हुई आतिशबाजी के रंगीन आतिशी नज़ारों ने मेलार्थियों को मुग्ध कर दिया। हजारों मेलार्थियों ने आतिशबाजी का आनंद लिया। मेलास्थल के विभिन्न डोम और मंचों आदि पर कई भजन और आर्केस्ट्रा समूहों की ओर से आयोजित भजन धाराओं और रंगारंग सांस्कृतिक प्रस्तुतियों पर मेलार्थी आनंद रसों से सराबोर हो उठे। मेले के समापन समारोह में सांवलियाजी मंदिर क्षेत्र के गांवों की प्रतिभाओं का सम्मान करने के साथ ट्र्राइ साईकिल वितरण भी किया गया।
मेले के मुख्य दिवस सोमवार रात श्याम निकुंज स्थित डोम में धेर्य म्युजीकल इवेन्ट ग्रुप कोटा के तत्वाधान में आयोजित भजन संध्या एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम में गायक कलाकार जॉली मुखर्जी ने ऐसी लागी लगन मीरां हो गई मगन जैसे गीत से श्रोताओं की खुब वाही-वाही बटौरी। कार्यक्रम का शुभारम्भ जिला कलक्टर शिवांगी स्वर्णकार, मंदिर मंडल सीईओ मुकेश कलाल, विधायक अर्जूनलाल जीनगर, पूर्व जिला प्रमुख सुशीला जीनगर, मंदिर मंडल अध्यक्ष कन्हैयादास वैष्णव, सदस्य मदन व्यास, भैरूलाल सोनी, भैरूलाल गाडरी, विजयसिंह, भैरूलाल जाट, गेहरीलाल गुर्जर सहित सदस्यों ने सांवलिया सेठ व सरस्वती मां की छवि पर दीप प्र्रज्वलित कर किया। जॉली मुखर्जी ने कहना है आज तुमसे कहना है, आओ सनम मिल कर वादा करे जैसे गानों पर भी प्रस्तुतियां दी।
जूनियर कलाकार आकर्षण का केन्द्र
इस अवसर पर कलाकार जुनियर अमिताभ, शषि कपूर, माधुरी के अलावा कॉमेडी के लॉफ्टर गुरू भटीया द्वारा भी प्रस्तुतीयां देकर दर्शकों की सराहना प्र्राप्त की। सांवलियाजी निवासी 15 वर्षिय गोरी बागरिया का मंच पर पहुंच कर नृत्य करना भी आकर्षण का केन्द्र रहा। मंदिर मण्डल की ओर से उसे पुरस्कार भी दिया।
लेडिज ऑर्र्केस्ट्रा रहा आकर्षण का केन्द्र
इसी मंच पर रात्रि एक बजे बाद लेडीज आर्केस्ट्र का आयोजन भी हुआ, जिसमें सभी महिला कलाकार व संचालन भी महिलाओं ने ही किया। ऑल बॉलीवुड इवेन्ट मुम्बई के बैनर तले मनीषा, मोना भट्ट आदि ने प्रस्तुतियां दी। इसके अलावा गोवर्धन रंगमंच पर दीप इवेन्ट मेनेजमेंट चित्तौडगढ के तत्वाधान में कनिका एण्ड ग्रुप द्वारा तथा रात्रि 1 बजे न्य राजस्थानी आर्केस्ट्रा बस्सी के कलाकारों द्वारा आर्केस्ट्रा की प्रस्तुतीयां दी गई। वहीं मंदिर के सिंह द्वार के सामने स्थित मीरां रंगमंच पर भी चरणजीत नई दिल्ली द्वारा आयोजित भजन संध्या ने भी आधी रात तक श्रोताओं को बांधे रखा, इसी मंच पर मध्यरात्रि बाद मंजू इवेन्ट डॉट कॉम नीमच के उमा लहरी ग्रुप द्वारा आयोजित भजन संध्या व सांस्कृतिक कार्यक्रम भी तडके 5 बजे तक चले।

प्राकट्य स्थल मंदिर पर भी कार्यक्रम
सांवलियाजी चौराहा स्थित प्राकट्य स्थल मंदिर पर भी वाटर प्रुफ डोम में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम भी तडके 4 बजे तक चले। यहां पर संस्कृति इवेन्ट्स कोटा के तत्वाधान में जितेन्द्रसिंह हाडा ग्रुप द्वारा राजस्थानी व पश्चिमी नृत्यों की प्रस्तुती दी। इस दौरान कलाकार महेन्द्र अलबेला, राजस्थान की प्रसिद्ध गौरी-नागौरी ने भी प्रस्तुतीयां देकर मन मोहा।


सजाई भगवान वामन अवतार की झांकी
मेले के अंतिम दिन दोपहर में भगवान वामन अवतार जन्म की विशेष झांकी सजाई गई। भगवान की राजभोग आरती के बाद विशेष आरती की गई तथा भगवान वामन अवतार की झांकी सजाई गई। इस झांकी के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की भीड उमड पडी। इसके बाद एक बजे मंदिर के पट बंद हुए।

अंतिम दिन महिलाओं के नाम
अंतिम दिन ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं ने पहुंच कर खूब खरीदारी की। मेले का अंतिम दिन मण्डफिया सहीत आस-पास के गांवो की महिलाओं का रहता है, जिसमें वे घरेलू सामग्री सहीत कई खरीदारी करते है। मंगलवार को भी प्रात: से ही ग्रामीण परिवेश की महिलाओं की भीड बाजारों में देखी गई।

रंगीन रोशनी में नहा उठा मन्दिर परिसर
श्रीसांवलियाजी मन्दिर क्षेत्र रंगीन रोशनी की साज-सज्जा से नहा उठा। रात का नजाऱा अत्यन्त आकर्षक और मनोहारी बना रहकर मेलार्थियों को सुकून देता रहा। बड़ी संख्या में मेलार्थियों मन्दिर परिसर एवं धाम के विभिन्न स्थलों के कैमरों एवं मोबाइल से फोटो एवं सेल्फी लेने का शौक पूरा किया और इन छवियों को सोशल मीडिया पर अपलोड किया।

Updated On:
11 Sep 2019, 01:52:42 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।