जलझूलनी एकादशी : हाथी-घोड़ा पालकी, जय कन्हैयालाल की

By: kalulal lohar

Updated On:
10 Sep 2019, 02:15:58 PM IST

  • जलझूलनी एकादशी पर जिले में भक्तिमय माहौल रहा। चित्तौडग़ढ़ शहर सहित विभिन्न स्थानों पर सोमवार को राम रेवाडिय़ों की शोभायात्रा निकाली गई।

चित्तौडग़ढ़. जलझूलनी एकादशी पर जिले में भक्तिमय माहौल रहा। चित्तौडग़ढ़ शहर सहित विभिन्न स्थानों पर सोमवार को राम रेवाडिय़ों की शोभायात्रा निकाली गई। इनमें भक्त बेवाण में भगवान की प्रतिमाओं को रख उन्हें जल में झुलाने के लिए नदियों व तालाबों के किनारे पहुंचे। शोभायात्राओं में हाथी घोड़ा पालकी, जय कन्हैयालाल की जयघोष होता रहा। चित्तौड़ पुराने शहर में जूना बाजार स्थित लक्ष्मीनाथ मंदिर पर शहर के अन्य क्षेत्रों के मंदिरों की राम रेवाडिय़ां एकत्रित हुई। यहां से बैंडबाजों के साथ मुख्य जुलूस शुरु हुआ। इसमें भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी। मंदसौरी ढोलों की थाप पर भक्त जमकर नाचते-गाते रहे। गांधी चौक से अन्य मंदिरों की राम रेवाडियां शामिल होकर जुलूस सदर बाजार गोलप्याऊ, नेहरु बाजार होते हुए गंभीरी नदी के तट पर पहुंचा। शहर के कुंभानगर, प्रतापनगर, सेंती, शास्त्रीनगर, मीरा मॉर्केट आदि क्षेत्रों से राम रेवाडिय़ां भी जुलूस के साथ यहां पहुंची। यहां मंदिर पुजारियों की ओर से भगवान को जल में स्नान कराकर आरती की गई।गंभीरी नदी में जलप्रवाह तेज होने से नगर परिषद की ओर से गोताखोर, नावें आदि की व्यवस्था की गई थी। लोगों को नदी में आगे तक नहीं जाने दिया गया एवं गोताखोरों की सहायता से ही भगवान को जल में स्नान कराया गया। बाद में राम रेवाडियें का जुलुस पुन: अपने-अपने मंदिर पहुंचे।
बेवाण के दर्शनों के लिए आतुर हुए लोग
रामरेवाडिय़ों में शामिल बेवाणों में स्थापित भगवान की प्रतिमाओं के दर्शनों के लिए श्रद्धालुओं में होड़ रही। मार्ग में कई जगह राम रेवाडिय़ों के जुलूस में शामिल लोगों स्वागत भी किया गया। सुभाष चौक में भी प्रसाद का वितरण किया गया। अखिल भारतवर्षीय श्री गुर्जर गौड ब्राह्मण युवक संघ जिला इकाई द्वारा सोमवार को संतोषी माता मंदिर के पास गंभीरी नदी की पुलिया पर फलाहारी प्रसाद वितरण किया गया।
बारिश ने बढ़ा दिया उत्साह
राम रेवाडिय़ां निकाले जाने के समय शहर में बारिश फिर शुरू हो गई। इससे भक्तों का उत्साह कम होने की बजाय बढ़ गया। लोग इसे भगवान का अभिषेक करने खुद मेघों के आने की बात मान अधिक उत्साह से बेवाण निकालने में जुट गए। नदी तट पर भगवान को जल में स्नान करते समय भी रिमझिम बारिश का दौर कभी बंद-कभी चालू रहा।
महिला की चेन कटी
चित्तौडग़ढ़. राम रेवाडिय़ां देखने गई महिला की सोमवार को बीच बाजार सोने के चेन काटकर चेन स्नेचर पुलिस चौकसी को आइना दिखा गए। जानकारी के अनुसार जलझूलनी एकादशी पर सोमवार को राम रेवाडिय़ां निकाली जा रही थी। इस दौरान गांधी नगर निवासी अशोक मोतीयानी की पुत्र वधू कशिश मोतीयानी भी परिजनों के साथ राम रेवाडिय़ा देखने गोल प्याऊ पहुंची। यहां भीड़ में किसी ने उसके गले में पहनी डेढ तोला वजनी सोने की चेन काट ली। जबकि पूरे क्षेत्र में बड़ी संख्या में पुलिस जाप्ता तैनात था। इस संबंध में कोतवाली में रिपोर्ट दी गई है।

Updated On:
10 Sep 2019, 02:15:58 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।