नदी के बीच फंसी ट्रैक्टर-टॉली, बाल-बाल बचे मजदूर

By: Sanjay Kumar Dandale

Updated On:
25 Aug 2019, 07:00:00 PM IST

  • नदी में अचानक पूर आने से ट्रैक्टर टॉली मझधार में फंस गई। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि वाहन चालक अंकित धुर्वे और ट्रैक्टर में सवार मजदूर सुमेर, सोहन, गोलू एवं एक अन्य किसी तरह नदी के बीच टापू पर पहुंचे लेेकिन नदी में बढ़ते पानी के कारण टापू के डूबने का खतरा मंडराने लगा।

छिंदवाड़ा/परासिया. ग्राम जाटाछापर पेंच नदी में अवैध रेत परिवहन के लिए गई ट्रैक्टर टॉली नदी के बीच तेज बहाव में फंस गई। जिसके कारण ट्रैक्टर में सवार चार मजदूर और ड्राइवर की जान आफत में आ गई।
जानकारी अनुसार इकलेहरा निवासी गुप्ता का ट्रैक्टर क्र एमपी 28 एसी 5810 शनिवार सुबह लगभग 6 बजे जाटाछापर पेंच नदी में रेत लेने गया था। नदी में अचानक पूर आने से ट्रैक्टर टॉली मझधार में फंस गई। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि वाहन चालक अंकित धुर्वे और ट्रैक्टर में सवार मजदूर सुमेर, सोहन, गोलू एवं एक अन्य किसी तरह नदी के बीच टापू पर पहुंचे लेेकिन नदी में बढ़ते पानी के कारण टापू के डूबने का खतरा मंडराने लगा। डायल 100 को सूचना दी गई इसके बाद रेस्क्यू टीम और पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन पानी उतरने के कारण कोई हादसा नहीं हुआ और सभी नदी के दूसरे किनारे दरबई की तरफ से सुरक्षित बाहर निकल गये।
गौरतलब है कि पेंच नदी किनारे रेत का अवैध उत्खनन एवं परिवहन बडे पैमाने पर होता है। पांच दिन पूर्व जाटाछापर नदी किनारे के बस्ती निवासियों ने थाना, चौकी प्रभारी तथा अनुविभागीय राजस्व अधिकारी को ज्ञापन सौंपकर पेंच नदी में अवैध रेत उत्खनन के बारे में जानकारी देते हुए लिखित बताया था कि ट्रैक्टर ड्राइवर नदी में जोखिम उठाकर रेत उत्खनन कर परिवहन कर रहे है जिससे हादसा हो सकता है। इसके अलावा ट्रैक्टरों की आवाजाही से पाइपलाइन एवं सडक क्षतिग्रस्त हो रही है। लेकिन पुलिस अधिकारियों तथा राजस्व खनिज विभाग ने कोई ठोस कार्रवाई नहीं की जिसके कारण रेत का काला कारोबार लगातार चलते रहा। देर शाम को मशक्कत के बाद ट्रैक्टर टॉली को नदी से बाहर निकाला गया। पुलिस ने ट्रैक्टर टॉली जब्त कर ली है।

Updated On:
25 Aug 2019, 07:00:00 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।