पुलिस के इस काम को लेकर गर्म हुआ चर्चाओं का बाजार

By: Rajendra Sharma

|

Updated: 25 Aug 2019, 12:31 PM IST

Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

छिंदवाड़ा/उमरानाला. पुलिस ने शनिवार तडक़े करीब पांच बजे के आस-पास रेत से भरे दो वाहन पकड़े जिसमें एक ट्रक और एक डम्पर शामिल है। सुबह करीब 10 से 11 बजे के बीच पुलिस ने रेत से भरा डम्पर छोड़ दिया। उमरानाला चौकी पुलिस ने ट्रक चालक के खिलाफ रेत चोरी का प्रकरण दर्ज कर प्रतिवेदन खनिज विभाग को भेजा है। पुलिस की इस कार्रवाई पर तमाम तरह के सवाल खड़े किए जा रहे हैं। चर्चाओं का बाजार भी गर्म है।
जिले में रेत का अवैध खनन और परिवहन लगातार किया जा रहा है। शनिवार तडक़े सिल्लेवानी घाटी की तरफ से ट्रक क्रमांक एमपी 22 जे 9999 और डम्पर क्रमांक जेएच 05 ए 9086 रेत भरकर ला रहे थे। पुलिस ने दोनों वाहन को रोका और रेत परिवहन के सम्बंध में दस्तावेज मांगे तो दोनों वाहन के चालक नहीं दिखा पाए। रेत का अवैध तरीके से परिवहन करने पर पुलिस ने दोनों वाहन को जब्त कर उमरानाला चौकी परिसर में खड़ा करा दिया। शनिवार सुबह उमरानाला चौकी पुलिस ने डम्पर क्रमांक जेएच 05 ए 9086 को छोड़ दिया, जबकि ट्रक क्रमांक एमपी 22 जे 9999 के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर प्रतिवेदन खनिज विभाग को भेजा है।
एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें डम्पर चौकी परिसर के अंदर से निकलकर रोड की तरफ जा रहा है। पुलिस की इस कार्रवाई पर सवाल उठ रहे हैं कि डम्पर पुलिस ने कैसे छोड़ दिया, अगर सभी दस्तावेज थे तो फिर उसे कई घंटे तक थाने में किस आधार पर और क्यों खड़ा रखा गया था।

एक ही ट्रक पकड़ा था

उमरानाला चौकी प्रभारी जीआर चंद्रवंशी से जब इस मामले में बात की गई तो उन्होंने जवाब दिया कि कार्रवाई करने के लिए छिंदवाड़ा से पुलिस की एक स्पेशल टीम आई थी जिसने रेत से भरा एक ही ट्रक पकड़ा था। ट्रक सिल्लेवानी की घाटी तरफ से आ रहा था। इस मामले में आगे की कार्रवाई एएसआइ जंघेला ने की है उन्हें ही ट्रक का नम्बर भी मालूम है।

चालान काटकर छोड़ दिया डम्पर

चौकी में पदस्थ एएसआइ राजेंद्र जंघेला ने बताया कि पुलिस ने रेत से भरे दो वाहन पकड़े थे। सुबह डम्पर को साहब ने एक हजार रुपए का चालान काटकर छोड़ दिया। ट्रक क्रमांक एमपी 22 जे 9999 के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर प्रतिवेदन खनिज विभाग को सौंपा है।

सुबह दस्तावेज दिखा दिए

मुझे एएसपी शशांक गर्ग ने बताया कि डम्पर वालों ने सुबह रॉयल्टी सहित अन्य दस्तावेज पेश कर दिए थे जिसके बाद उसे छोड़ दिया गया है, इसमें किसी प्रकार के संदेह वाली बात नहीं है।
मनोज कुमार राय, एसपी, छिंदवाड़ा

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।