अब पांढुर्ना में होंगी 76 ग्राम पंचायतें

By: SACHIN NARNAWRE

Updated On:
24 Aug 2019, 04:59:34 PM IST

  • आखिरकर ग्राम खडक़ी को ग्राम पंचायत भूयारी से पृथक कर ग्राम पंचायत धावड़ीखापा में शामिल कर ही लिया गया है।

पांढुर्ना. आखिरकर ग्राम खडक़ी को ग्राम पंचायत भूयारी से पृथक कर ग्राम पंचायत धावड़ीखापा में शामिल कर ही लिया गया है। खडक़ी के ग्रामीणों की बरसों पुरानी मांग पूरी होने पर ग्रामीणों ने खुशी जाहिर की है। आने वाले पंचायती राज चुनाव में खडक़ी के ग्रामीण धावड़ीखापा में वोट डालेंगे। खडक़ी से भूयारी पंचायत की दूरी लगभग 7 किमी है। अपनी ही पंचायत में जाने के लिए ग्रामीणों को इतनी लंबी दूरी तय करनी पड़ रही थी। अब इन्हें धावड़ीखापा 5 किमी ही आना जाना करना पड़ेगा जिससे खासकर गरीब हितग्राहियों को लाभ मिलेगा।
ग्राम पंचायतों के परिसीमन के लिए दावे आपत्तियों में खडक़ी के ग्रामिणों ने भूयारी से पृथक कर धावड़ीखापा पंचायत में शामिल करने की मांग की थी। प्रशासन ने इस मांग का प्रस्ताव बनाकर 21 अगस्त को कलेक्टर के समक्ष प्रस्तुत किया था जिसे मंजूरी प्रदान कर दि गई है। अब भूयारी पंचायत में दो गांव भूयारी और बेलगांव ही है जिसकी जनसंख्या 990 है। जबकि धावड़ीखापा पंचायत में चार गांव हो गए धावड़ीखापा, नंदापुर, नीलकंठ और खडक़ी जिनकी कुल जनसंख्या 2096 है।
25 साल बाद हुआ परिसीमन
25 वर्षों बाद हुए ग्राम पंचायतों के परिसीमन के बाद चार नई ग्राम पंचायतों का उद्भव हुआ है। नई ग्राम पंचायते होगी देवनालामाल, मुंडीढाना, छिंदबोह और सेंदुरजना। जनपद पंचायत अंतर्गत 72 ग्राम पंचायतो का लगभग 25 साल बाद परिसीमन हुआ है।
इस परिसीमन का प्रारंभिक प्रकाशन एक जुलाई को किया गया था। इसके बाद 16 अगस्त तक
इस दावे आपत्ति मांगी गई थी। इन दावे आपत्ति पर 21 अगस्त को कलेक्टर कार्यालय में निराकरण के बाद 4 नई ग्राम पंचायतों का गठन किया गया।

Updated On:
24 Aug 2019, 04:59:34 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।