बीइओ-बीआरसी की हरकत से कलेक्टर हुए नाराज, दे दिए यह आदेश

By: Dinesh Sahu

Updated On: 24 Aug 2019, 01:03:20 PM IST

  • - कलेक्टर ने की कार्रवाई, शासकीय प्राथमिक शाला मुरमारी का मामला

 

छिंदवाड़ा. मोहखेड़ विकासखंड अंतर्गत आने वाले शासकीय प्राथमिक शाला मुरमारी के विद्यार्थियों द्वारा शिक्षिका ग्रेस प्रसाद की पदस्थापना के विरोध में स्कूल का बहिष्कार करने तथा स्कूल नहीं जाने की सूचना मिलने पर कलेक्टर डॉ. श्रीनिवास शर्मा ने ब्लाक शिक्षा अधिकारी एमएल शर्मा तथा बीआरसी शशि वाहने को निलंबन की कार्रवाई के लिए नोटिस जारी किया है। वहीं सहायक शिक्षिका प्रसाद को जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय छिंदवाड़ा में उपस्थिति देने के निर्देश दिए गए है।

 

बताया जाता है कि कलेक्टर ने तीन दिवस के भीतर बीइओ तथा बीआरसी से नोटिस का जवाब मांगा है तथा आदेश का पालन नहीं करने तथा संतोषजनक जवाब नहीं दिए जाने पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी गई है। जानकारी के अनुसार प्राथमिक शाला मुरमारी में उपजे तनाव के निराकरण की जिम्मेदारी डीपीएमयू की बैठक में बीइओ तथा बीआरसी को दी गई थी। इसके बावजूद उक्त अधिकारियों ने लापरवाही बरती, जिसके चलते कलेक्टर ने सख्ती दिखाई है।

 

यह है मामला -

 

शिकारपुर के समीप ग्राम मुरमारी में संचालित शासकीय प्राथमिक शाला के विद्यार्थियों ने शिक्षिका के विरोध में स्कूल जाना बंद कर दिया। स्थानीय जनप्रतिनिधियों तथा ग्रामीणों ने आक्रोश के बाद मामला प्रकाश में आया। जिसके बाद शैक्षणिक अमले में हचचल मच गई। बताया जाता है कि शिक्षिका के भय और माध्याह्न भोजन में लापरवाही के कारण बच्चे स्कूल नहीं आ रहे हैं।

 

शिक्षिका की पहले भी ग्रामीणों ने शिकायत की थी। जांच के बाद जिला शिक्षा अधिकारी ने शिक्षिका को निलंबित कर परासिया बीइओ कार्यालय में अटैच किया था। हाल ही में डीइओ ने उक्त शिक्षिका को बहाल कर मुरमारी स्कूल में ही पदस्थापना दी है।

Updated On:
24 Aug 2019, 01:03:19 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।