१० साल से चल रहे जमीनी विवाद को लेकर पहले ट्रैक्टर से मारी टक्कर फिर मारपीटकर गला दवाकर की चचेरे भाई की हत्या

By: Unnat Pachauri

Published: 24 Aug 2019, 11:22 PM IST

 
  • - केश में भी मिजाजी की अहम भूमिका इसलिए की हत्या

छतरपुर। बमीठा थाना क्षेत्र के चौका कोडऩ गांव में १० सालों से चले आ रहे जमीनी विवाद को लेकर आरोपियोंं अपने चचरे भाई की बाइक में पहले टै्रक्टर से टक्कर मारी फिर गांव के बाहर ले जाकर मारपीट की और गला दवा दिया। वहीं पीछे से आ रहे गांव के लोगों को पास आता देख आरोपी घायल के गुप्तांग में लातों कुचलकर भाग खड़े हुए। परिजनों द्वारा आनन-फानन में निजी वाहन द्वारा उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल के लिए लाए, लेकिन रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया। घटना की सूचना पर पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम कराया और परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया। पुलिस द्वारा मामले में खुलकर बात करने से कतरा रही है।
जानकारी के अनुसार बमीठा थाना क्षेत्र के चौका कोडन गांव निवासी मिजाजी पटेल (३६) पिता ग्यादीन पटेल चार भाई हैं। मिजाजी और उसके चचेरे भाई अच्छेलाल पटेल के बीच करीब ८ एकड़ कृषि भूमि को लेकर विवाद चल रहा है। हाल में यह भूमि अच्छेलाल के कब्जे में हैं। बीते १० वर्षों में इसी को लेकर तहसील से जबलपुर तक केश चला है। मिजाजी के भाई जगराज पटेल ने बताया कि हाल में राजनगर और जबलपुर में केश चल रहा है। इसी को लेकर अच्छेलाल का परिवार उनसे दुश्मनी मानता है। शुक्रवार को शाम करीब ६ बजे मिजाजी जन्ताष्टमी की पूजा के लिए पास के गांव झमटुली के बाजार से सामना लेकर अपनी बाइक से घर आ रहा था। मिजाजी जैसे ही गांव के पास पहुंचा तो सामने से तो चचेरे भाई अच्छेलाल, दशरथ, बब्लू पटेल और अच्छेलाल का भांजा नन्दलाल निवासी दिदौनिया ने ट्रैक्टर से बाइक टक्कर मार दी। जिससे मिजाजी बाइक से गिर गया और आरोपियों से बचने के लिए वहीं पर गोकल अहिरवार के घर में घुस गया। लेकिन आरोपी उसे इलाज के लिए ले जाने का बहाना बना घर से निकाला और अपनी बाइक में लेकर कोडऩ और चौका गांव की रास्ते में ले गए। जहां पर आरोपियों ने उसके साथ बुरी तरह से मारपीट की और गला दवाया। वहीं घटना जानकारी होने पर मिजाजी के परिजनों और गांव के लोग उसे बचाने के लिए दौड़े। तो लोगों को पास आता देख आरोपियों द्वारा मिजाजी के गुप्तांग को लातों से कुचला गया और मरा समझकर भाग खड़े हुए। परिजनों द्वारा उसे आनन-फानन में इलाज के लिए निजी वाहन से जिला अस्पताल के लिए आए लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। घटना की सूचना पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव पंचनामा किया और शव का पीएम कराने के बाद परिजनों के सुपुर्द किया गया। वहीं मामले की जांच कर रहे एएसआई केशव सिंह परिहार ने बताया कि मामले में मर्ग कायम कर पीएम कराया है। दो दिन में पीएम रिपोर्ट आएगी जिससे घटना का का सही कारण की जानकारी हो सकेगी। एएसआई का कहना है कि मृतक का अंतिम संस्कार होने के बाद घटना स्थल पर पहुंचकर जांच पड़ताल की जाएगी।


घटना स्थल का नहीं किया निरीक्षण
शुक्रवार की शाम घटना होने के बाद पुलिस को जानकारी दी गई थी। लेकिन पुलिस द्वारा आरोपियों पर मामला दर्ज नहीं किया और न ही मौके पर पहुंचकर घटना स्थल का निरीक्षण किया। पुलिस ने मामने में मर्ग कायम कर पीएम कराया। पुलिस का कहना है कि परिजनों द्वारा आरोप लगाए जा रहे हैं। लेकिन हाल में मर्ग कायम कर जांच की जाएगी और जांच के बाद मामला दर्ज किया जाएगा। वहीं एएसआई केशव सिंह परिहार का कहना है कि अभी घटना स्थल का निरीक्षण नहीं किया है। मृतक का दाह संस्कार होने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Published: 24 Aug 2019, 11:22 PM IST

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।