मद्रास पिंजरापोल में सजी झांकियों से दर्शक हुए मुग्ध

Ashok Singh Rajpurohit

Publish: Sep, 12 2018 05:21:39 PM (IST)

पीपुल फॉर हेल्प के बैनर तले जिनशासन के चमकते सितारे विषयक प्रदर्शनी

चेन्नई. जीवदया को समर्पित पीपुल फॉर हेल्प (पीएफएच) के बैनर तले कुन्नूर हाई रोड स्थित मद्रास पिंजरापोल गौशाला में सोमवार को जिनशासन के चमकते सितारे विषयक प्रदर्शनी लगाई गई जिसमें ११ अनोखी झांकियां सजाई गई। पीएफएच के सदस्यों ने बताया कि ये झांकियां पर्यूषण पर्व के पांचवें दिन महावीर जन्म वाचन कार्यक्रम के उपलक्ष्य में सजाई गई हंै। इनमें कहानी अद्भुत दान, महावीर और चंदनबाला तप, विजय सेठ व विजया सेठानी करुणा, महावीर और चरवाहा नेम, राजुल की अमर कहानी, जीवदया और पहली रोटी गाय की सहित अन्य झांकियां शामिल थी। इसके अलावा पालनाजी झुलाने के लिए आने वाले भक्तों में जीवदया के प्रति जागरूकता लाने का प्रयास किया गया। करीब तीन हजार लोगों ने झांकियां देखी। वहां उपस्थित लोगों ने झांकियों की विशेषता बताई।

विद्यार्थियों को मिली उपाधि

चेन्नई. चेन्नई के वेलप्पनजावड़ी स्थित एसीएस मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल परिसर के कन्वेंशन सेंटर में सोमवार को डॉ. एमजीआर एजूकेशनल एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट मदुरैवॉयल के 27वें दीक्षांत समारोह मनाया गया। संस्थान के कुलसचिव डॉ. सी.बी. पलनीवेलु ने बताया कि समारोह के दौरान बी.टेक, एम.बी.बी.एस, बी.डी.एस., बी.पी.टी., एम.डी.एस., एम.टेक., एम.आर्च, एम.बी.ए., एम.सी.ए., एम.पी.टी, बी.एससी. एवं पीएच.डी के 2303 सफल विद्यार्थियों को उपाधि प्रदान की गई। समारोह के मुख्य अतिथि राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने दीक्षांत भाषण देते हुए डिग्रीधारकों का उत्साह वर्धन किया।

निशुल्क नेत्र जांच शिविर

चेन्नई. चेन्नई मेट्रो महावीर क्लब और रूणवाल ट्रस्ट के संयुक्त तत्वावधान में तिरुवान्म्यूर में ट्रस्ट के हॉल में निशुल्क नेत्र जांच शिविर लगाया गया। शिविर में डॉ. अग्रवाल आई अस्पताल के चिकित्सकों ने 70 लोगों की आंखों की जांच की। इनमें से 17 लोगों की आंखों की मोतियाबिंद पाए जाने के कारण निशुल्क सर्जरी करवाई जाएगी। जांच में 15 जनों की आंखें कमजोर पाई गई जिनको चश्मे बनाकर दिए जाएंगे। क्लब के आई प्रोजेक्ट चेयरमैन मंगलचंद तातेड़ ने बताया कि शिविर में मंगलचंद रूणवाल, प्रकाश गुलेछा, आनंद जैन, नमन रूणवाल, अरुल और दिलनवाज का सहयोग सराहनीय रहा।

More Videos

Web Title "Decorated Floats attrected at Madras Pinjarpol"