chennai news in hindi :राष्ट्रपति कल करेंगे भगवान अत्तिवरदर के दर्शन

By: shivali agrawal

Updated On:
11 Jul 2019, 06:02:21 PM IST

  • कांचीपुरम kancheepuram वरदराजा भगवान अत्तिवरदर lord athi varadar के दर्शन के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविद 12 जुलाई को को दोपहर 2.00 बजे चेन्नई chennai आएंगे।

चेन्नई. कांचीपुरम kancheepuram वरदराजा भगवान अत्तिवरदर lord athi varadar के दर्शन के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविद 12 जुलाई को को दोपहर 2.00 बजे चेन्नई chennai आएंगे। फिर वह विशेष विमान से कांचीपुरम पहुंचेंगे और भगवान अत्तिवरदर के दर्शन दोपहर 3.00 बजे से शाम 4.00 बजे के मध्य करेंगे। शुक्रवार की रात को राजभवन रुककर अगली दिन महामहिम रेनिगुंटा,आंध्रप्रदेश के लिए रवाना होंगे। उल्लेखनीय है कि कांचीपुरम में भगवान अत्तिवरदर की मूर्ति मंदिर परिसर में सरोवर में 40 साल तक पानी के भीतर रहती हैं और इस साल एक जुलाई से 17 अगस्त तक अत्तिवरदर के दर्शन होंगे। प्रारंभिक दिनों में चालीस साल जल के नीचे रही इस मूर्ति का रंग गहरा होता है जो बाद गेहुआं हो जाता है। अत्तिवरदर के शुरुआत के चौबीस दिन शयन मुद्रा तथा शेष चौबीस दिन खड़ी मुद्रा में रहते हैं। कांचीपुरम मंदिरों की नगरी है। कांचीपुरम का आशय उस स्थल से है जहां प्रजापिता ब्रह्मा ने भगवान विष्णु की पूजा की। कांचीपुरम में जितने शिव मंदिर और उनका प्रताप है उतने ही विष्णु मंदिर भी हैं। इनमें सबसे प्रमुख वरदराजा भगवान मंदिर है। वरदराजा भगवान अत्तिवरदर के दर्शन प्रारंभ होने से अभी तक दस लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने भगवान के दर्शन किए। महामहिम की सुरक्षा व्यवस्था के लिए शहर में एक विस्तृत बैठक आयोजित की गई थी।
यह घोषणा की गई है कि राष्ट्रपति के दर्शन की अवधि के दौरान अन्य भक्तों को भगवान के दर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी।

Updated On:
11 Jul 2019, 06:02:21 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।