पंजाब डेमोक्रेटिक एलायंस की मांग,पाकिस्तान जा रहा पंजाब का पानी रोककर किसानों को दिया जाए

By: Prateek Saini

Published On:
Jun, 12 2019 06:22 PM IST

  • जल्दी कदम नहीं उठाए गए तो हरिके बैराज पर एलायंस देगा धरना...

     

     

(चंडीगढ): जहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पाकिस्तान जा रहे देश की नदियों का पानी रोकने की बात कर रहे हैं, वहीं पंजाब में भी विपक्ष के गठबंधन इस पानी को रोक कर प्रदेश की नहरों में डालने की मांग कर रहे हैं।


पंजाब डेमोक्रेटिक एलायंस में शामिल पंजाब एकता पार्टी के नेता और पूर्व नेता प्रतिपक्ष सुखपाल खैहरा ने आज यहां मांग की कि पाकिस्तान जा रहे 15 से 20 हजार क्यूसिक्स पानी को रोककर पंजाब की नहरों में डाला जाए।


सुखपाल खैहरा ने यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि इस मुद्दे पर राज्य सरकार को कुछ समय दिया जाएगा, लेकिन उचित समय सीमा में पाकिस्तान जाने वाले नदी जल को रोकने के लिए कदम नहीं उठाए गए, तो रावी-ब्यास नदी जल के संगम स्थल हरिके बैराज पर एलायंस की ओर से धरना शुरू किया जाएगा। एलायंस में शामिल सभी राजनीतिक दल धरने में भागीदारी करेंगे।


खैहरा ने कहा कि पंजाब में न केवल किसान बल्कि पेयजल के लिए भी पानी नहीं मिल रहा हैं। पहले ही पंजाब के नदी जल का बटवारा राजस्थान और हरियाणा को कर दिया गया है। राजस्थान फीडर में करीब साढे नौ हजार क्यूसिक्स और गंग नहर में ढाई हजार क्यूसिक्स पानी जा रहा है लेकिन पंजाब की नहरें सूखी हुई हैं। किसान आंदोलन की राह पर हैं। नदी जल पाकिस्तान जा रहा है और पंजाब में करीब 15 लाख ट्यूबवैलों से सिंचाई की जा रही है। भूमिगत जल के दोहन से कई इलाके डार्क जोन में आ गए है। अधिकृत एजेंसियों ने चेतावनी दी है कि आगामी 25 साल में पंजाब सूखा क्षेत्र में बदल जाएगा।

 

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान जा रहे 15 से 20 हजार क्यूसिक्स पानी को तुरन्त रोका जाए। अधिकारी इतना पानी पाकिस्तान जाने के पीछे बांधों का कमजोर होना बता रहे हैं। खैहरा ने कहा कि इस पानी को रोक कर पंजाब के नहरी तंत्र में डालने से प्रदेश की जरूरत पूरी हो जाएगी। खैहरा ने बोरवैल में गिरे बच्चे फतेहवीर को सकुशल न निकाल पाने में सरकार की नाकामी की निंदा की। उन्होंने कहा कि बच्चे को समय पर निकालने में सही तकनीकी इस्तेमाल नहीं की गई। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने इस मामले में लापरवाही बरती। इसी तरह फरीदकोट जिले में पुलिस हिरासत में युवक की मृृत्यु मामले में मुख्यमंत्री ने लापरवाही दिखाई है। मुख्यमंत्री और केबिनेट मंत्री नवजोत सिद्धू के मामले में खैहरा ने कहा कि सिद्धू को टारगेट किया जा रहा है। सिद्धू ने कैप्टेन अमरिंदर सिंह और बादल परिवार की मिलीभगत की सच्चाई बयान की है।

Published On:
Jun, 12 2019 06:22 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।