राहुल गांधी के इस्तीफे से पंजाब सीएम निराश,बोले-पार्टी के लिए मुश्किल का समय

By: Prateek

|

Published: 03 Jul 2019, 09:23 PM IST

Chandigarh, Chandigarh, Punjab, India

(चंडीगढ़): इंडियन नेशनल कांग्रेस का अध्यक्ष ( Congress President ) पद इस समय पूरे देश में सुर्खिया बटोर रहा है। मौजूदा अध्यक्ष राहुल गांधी ( Congress President Rahul Gandhi ) इस्तीफा देने के फैसले पर अडिग हैं। इसके बाद से नए अध्यक्ष ( Congress new President ) को लेकर अटकलों का दौर भी शुरू हो गया है। राहुल की ओर से खत लिखकर अपना पक्ष साफ करने के बाद से कांग्रेस नेताओं की प्रतिक्रियाएं सामने आने लगी हैं। सभी राहुल से अपने पद पर बरकरार रहने की मांग कर रहे हैं। इसी क्रम में पंजाब के मुख्यमंत्री ( Punjab CM ) ने कहा है कि यह कांग्रेस के मुश्किल समय है। हम एक साथ ज्यादा सशक्त बनकर इससे बाहर निकलेंगे।

 


पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ( Punjab Cm Amarinder Singh ) ने राहुल गांधी के इस्तीफे पर निराशा व्यक्त की। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने जिस गतिशीलता और संघर्ष करने की भावना के साथ चुनावी अभियान में कांग्रेस का नेतृत्व किया था उसी तरह नेतृत्व को जारी रखना चाहिए।

पंजाब सीएम ने यह भी कहा कि यह पार्टी के लिए मुश्किल का समय है। हम सभी साथ मिलकर और भी सशक्त बनकर इससे बाहर निकलेंगे। राहुल के दृष्टिकोण से हमारा मार्गदर्शन जारी रहेगा।

बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 में कांग्रेस की हार की जिम्मेदारी लेते हुए राहुल गांधी पहले ही कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे चुके है। कांग्रेस कार्य समिति ने उनका इस्तीफा मंजूर नहीं किया। आज राहुल गांधी ने चार पन्नों की चिट्टी लिखकर एक बार फिर साफ कर दिया कि वह इस पद पर नहीं रहना चाहते है। राहुल ने अपनी चिट्टी में लिखा कि पार्टी का अध्यक्ष होने के नाते 2019 के चुनाव में हुए नुकसान के लिए मैं जिम्मेदार हूं। पार्टी के भविष्य और उसके विकास के लिए जवाबदेही आवश्यक है। इसलिए मैं अपने पद से इस्तीफा दे रहा हूं।

इसी के साथ राहुल ने आज पार्टी के नाम संदेश देते हुए कहा कि पार्टी को बिना देर किए नए अध्यक्ष को लेकर फैसला करना चाहिए। उन्होंने स्वयं के इस प्रक्रिया से दूर रहने की बात कही है। राहुल ने कहा कि मैं अब कांग्रेस का अध्यक्ष नहीं हूं और अपना इस्तीफा पहले ही दे चुका हूं। कांग्रेस कार्य समिति को जल्द ही इस बैठक कर इस दिशा में फैसला लेना चाहिए।

 

पंजाब से जुड़ी ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करे...


यह भी पढे: मोतीलाल वोरा हो सकते हैं कांग्रेस के अंतरिम अध्यक्ष, इसके पीछे बड़ी वजह

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।