Automatic Car खरीदने से पहले ही जान लें ये जरूरी बातें, वरना बड़ी मुसीबत में पड़ जाएंगे आप

By: Sajan Chauhan

Updated On: Jul, 20 2018 11:17 AM IST

  • अगर आप ऑटोमैटिक कार खरीदने जा रहे हैं तो पहले ही जान लें कि इन कारों में आप इच्छानुसार पावर नहीं ले पाएंगे और ठीक से ओवरटेक भी नहीं कर पाएंगे।

आज के समय में देश में ऑटोमैटिक कारों की डिमांड काफी ज्यादा बढ़ती जा रही है, जिसको देखते हुए देश और दुनिया की जानी-मानी ऑटोमोबाइल कंपनियां भारत में एक से बढ़कर एक एएमटी कारें लॉन्च करती रहती हैं। अगर आप भी एएमटी कार खरीदने जा रहे हैं तो आपको उससे पहले इसके बारे में ठीक से जान लेना चाहिए, क्योंकि ये कारें अन्य कारों से काफी ज्यादा अलग होती हैं।

ये भी पढ़ें- बुलेट की छुट्टी करने आ गई Kawasaki की ये शानदार बाइक, कीमत जानकर उड़ जाएंगे होश

कीमत के लिहाज से देखा जाए तो ऑटोमैटिक और मैनुअल कारों की कीमत में कोई खास अंदर नहीं रह गया है। नए जमाने के हिसाब से लोग बदलते हैं इसलिए भी ये कारें लोगों को ज्यादा पसंद आ रही हैं। ऑटोमेटिक कारें मैनुअल कारों के मुकाबले ट्रैफिक और हाईवे पर ज्यादा बेहतरीन साबित होती हैं। शहरों में जिस कदर ट्रैफिक बढ़ता जा रहा है उसको देखते हुए ये कारें बहुत ज्यादा आरामदायक साबित होती है। इन कारों में बार-बार क्लच दबाने की परेशानी से छुटकारा मिल जाता है।

ये भी पढ़ें- Baleno और i20 को मात देने आई Honda की ये नई कार, कीमत कम लेकिन फीचर्स सुपरकारों वाले

माइलेज की बात की जाए तो इन कारों में एडवांस्ड टेक्नोलॉजी दी गई होती है, जिसकी वजह से माइलेज अच्छा मिलता है।
पावर की बात की जाए तो इन कारों में मैनुअल कारों की तरह इच्छानुसार पावर नहीं मिल पाती है, क्योंकि ये कारें अपने हिसाब से गियर बदलती हैं। सर्विस की बात की जाए तो Amt कारों की सर्विस भी मैनुअल कारों के मुकाबले अधिक महंगी होती हैं।

ये भी पढ़ें- सिर्फ ढाई लाख में मिल रही है ये शानदार कार, 23 kmpl का माइलेज और ये दमदार फीचर्स

लॉन्ग ड्राइव के हिसाब से देखा जाए तो ऑटोमेटिक कारों में सबसे ज्यादा फायदा मिलता है, क्योंकि लंबी दूरी में बार-बार गियर बदलने की दिक्कत नहीं है और इन कारों में ये अपने आप होता रहता है। एक तरह से ड्राइवर बेफ्रिक होकर गाड़ी चलाता है।

ये भी पढ़ें- पुराने Scooter में लगाएं ये छोटी सी Kit, 100 km से ज्यादा देगा माइलेज

खराब सड़कों पर भी ऑटोमैटिक कारें अच्छी साबित होती हैं, लेकिन इनमें गियर बदलने में ज्यादा समय लगता है और इस दौरान महसूस होता है कि गियर शिफ्टिंग हो रही है। इसी के साथ जब ट्रैफिक में होते हैं तो गियर स्पीड के हिसाब से बदलते हैं तो फ्यूल ज्यादा खर्च होता है।

Published On:
Jul, 20 2018 11:15 AM IST