NCAP क्रैश टेस्ट में Toyota Etios को मिली 4 स्टार रेटिंग, चाइल्ड सेफ्टी के मामले में बनी सबसे सुरक्षित कार

By: Vineet Singh

Updated On: Jul, 17 2019 03:30 PM IST

    • NCAP क्रैश टेस्ट में इटियॉस को मिली 4 स्टार रेटिंग
    • चाइल्ड सेफ्टी के मामले में बेहद सुरक्षित है ये कार
    • एक्सीडेंट के दौरान पैसेंजर और ड्राइवर को रखती है सुरक्षित

नई दिल्ली: ब्राजील निर्मित टोयोटा इटियॉस ( Toyota Etios ) ने हाल ही में ( Ncap ) ( लैटिन न्यू कार असेसमेंट प्रोग्राम ) की तरफ किए गए क्रैश टेस्ट में एडल्ट एंड चाइल्ड ऑक्यूपेंट प्रोटेक्शन के लिए 4-स्टार रेटिंग हासिल की है। आमतौर पर ज्यादातर कारें किसी एक ही सेक्शन में अच्छे परिणाम दे पाती हैं लेकिन इटियॉस अडल्ट सेफ्टी और चाइल्ड सेफ्टी, दोनों ही पैमानों पर खरी उतरी। ऐसे में साबित हो गया है कि ये कार एक्सीडेंट के दौरान बेहद सुरक्षित बन जाती है।

आपको बता दें कि इटियॉस के पुराने वर्जन ने भी एनसीएपी क्रैश टेस्ट में 4 स्टार की रेटिंग हासिल की थी। लैटिन NCAP के मुताबिक़ पुरानी Etios car पैसेंजर एयरबैग वार्निग मार्किंग, पैसेंजर एयरबैग डिसकनेक्शन स्विच की कमी और खराब ISOFIX मार्किंग की वजह से चाइल्ड ऑक्यूपेंट प्रोटेक्शन में ज्यादा स्टार नहीं स्कोर कर पाई थी।

भारत में 10 लाख EV बनाने के लिए Hyundai करेगी 2,000 करोड़ का निवेश

NACP

लैटिन NCAP के अनुसार, इस क्रैश टेस्ट के परिणाम दोनों इटियॉस, हैचबैक के साथ-साथ सेडान संस्करण के लिए भी समान था। टोयोटा इटियोस के पिछले संस्करण में हुए क्रैश टेस्ट में भी 4 स्टार हासिल किए थे।

गोरखपुर के BJP सांसद रविकिशन के पास है लग्जरी कारों का जबरदस्त कलेक्शन, देखकर आप भी कहेंगे वाह

NACP

लैटिन एनसीएपी के अध्यक्ष रिकार्डो मोरालेस ने कहा कि टोयोटा इटियॉस का NCAP क्रैश टेस्ट करवाने के लिए उपभोक्ता लगातार रिक्वेस्ट कर रहे थे और यही वजह है कि इस कार का क्रैश टेस्ट करवाया गया और इसका काफी अच्छा नतीजा भी निकला। एनसीएपी की रिपोर्ट में कहा गया है कि इस कार की संरचना और मॉडल के फुटवेल क्षेत्र को अस्थिर माना जाता था, इसके बावजूद, कार ने सामने और साइड इफेक्ट्स परीक्षणों अच्छे सेफ्टी लेवल्स दिखाए। इसके अलावा, सीट बेल्ट रिमाइंडर (SBR) जैसी सुविधाओं के लिए दोनों फ्रंट सीटों और ESC के लिए, इटिओस ने एडल्ट ऑक्यूपेंट प्रोटेक्शन के लिए चार स्टार स्कोर किए हैं।

 

Published On:
Jul, 17 2019 03:05 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।