पिकनिक मनाने गए तीन दोस्तों की ये है आखिरी सेल्फी, दो पानी में बहे, ब्लैक शर्ट वाला सादान सिर्फ बचा

By: Muneshwar Kumar

Updated On:
13 Aug 2019, 04:02:19 PM IST

  • two youth drowned in river: बुरहानपुर में पिकनिक मनाने गए दो युवक नदी में डूबे, एक की मिली लाश

बुरहानपुर. जिला मुख्यालय से 25 किमी दूर ग्राम महल गुलआरा में उतावली नदी में पानी आने से पर्यटक पिकनिक ( picnic ) मनाने आ रहे हैं। सोमवार को बुरहानपुर ( burhanpur news ) से 3 युवक पिकनिक मनाने गए थे, लेकिन पैर फिसलने से 2 युवक डूब ( two youth drowned in river ) गए। सोमवार को तलाश के बाद शव नहीं मिला रात में अंधेरे में रेस्क्यू नहीं हो पाया। मंगलवार को दोपहर में एक युवक का शव मिला, वहीं दूसरे की तलाश जारी है। इस दौरान महल पर भारी भीड़ जमा हो गई है।


दरअसल, महल गुलआरा में उतावली नदी में बाढ़ आने के बाद भी यहां पर सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं है, बुरहानपुर सहित ग्रामों शेत्रो से लोगो यहां पर बारिश के दिनों में पिकनिक मानाने आते हैं, जिसके चलते ये हादसे होते हैं। उसके बाद भी स्थानीय स्तर पर प्रशासन के द्वारा कोई इंतजाम नहीं किया गया है।

इसे भी पढ़ें: 10वीं पास युवक को खुद को बताया जज, रईसी देख जाल में फंसी मेडिकल स्टूडेंट, पुलिस अफसरों से सीखता था...

 

पहले भी घटी है घटना
बताया जा रहा है कि पानी में डूबने की यह घटना पहली नहीं है, इसके पहले भी पिकनिक मनाने आए युवक डूब चुके हैं, इसके बाद भी यहां पर सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं हैं। फिलहाल एक और युवक की लाश की तलाश जारी है। जिले में भारी बारिश के बाद नदियों में उफान है।

 

जानकारी के अनुसार सेहतकुआ इतवारा निवासी अरमान, मोहम्मद रेहान और सादान महलगुलआरा घूमने आए थे। इस दौरान तीनों युवक नदी के पास गए। अचानक रेहान का पैर फिसला और वह पानी में गिर गया। उसे बचाने के चक्कर में अरमान भी पानी में गिर गया। दोनों एक-दूसरे का हाथ पकड़कर गहरे पानी में चले गए। सादान के चिल्लाने के बाद कुछ लड़कों ने पानी में गोता लगाया लेकिन नहीं मिले। इसके बाद सादान ने तुरंत परिजनों को इसकी सूचना दी।

इसे भी पढ़ें: 51 लाख रुपये जमा कर लंदन से ग्रेजुएशन करने गई लड़की, एडमिशन के बाद हुआ 'झोल' तो लौट के आना पड़ा MP

 

वहीं, पुलिस देर शाम तक युवकों की तलाश करती रही लेकिन सोमवार को किसी का पता नहीं चला था। स्थानीय लोगों के अनुसार क्षेत्र के कई युवक ऑक्सीजन मशीन मांगते रहे, ताकि अंदर लंबे समय तक गोता लगाकर तलाश की जा सके। लेकिन उपलब्ध नहीं हो सकी। बाद में होमगार्ड की आपदा प्रबंधन टीम भी वहां नाव और इंजन लेकर पहुंची, लेकिन देर रात तक नाव का इंजन ही चालू नहीं हुआ।

Updated On:
13 Aug 2019, 04:02:19 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।