विद्यालय में छह दिन से ताले, नहीं हो रही विद्यार्थियों की पढ़ाई

By: pankaj joshi

Updated On:
24 Aug 2019, 10:11:28 PM IST

  • चीता की झोंपडियां गांव स्थित राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय के शनिवार को छठे दिन भी ताले नहीं खुले, जिससे विद्यार्थियों की पढ़ाई नहीं हो सकी।

देई. चीता की झोंपडियां गांव स्थित राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय के शनिवार को छठे दिन भी ताले नहीं खुले, जिससे विद्यार्थियों की पढ़ाई नहीं हो सकी। ग्रामीण घनश्याम मीणा ने बताया कि विद्यालय भवन जर्जर होने के कारण शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारियों ने 19 अगस्त से पांच दिन का अवकाश कर रखा था। शनिवार को छठे दिन विद्यालय पर विद्यार्थी पहुंचे, लेकिन ताले नहीं खुलने से वापस लौट गए। विद्यालय में स्वतंत्रता दिवस के बाद से ही विद्यार्थी पढऩे नहीं जा रहे हैं। विद्यालय में करीब 90 विद्यार्थियों का नामांकन है। इस बारे में राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय भजनेरी की पीईईओ नीतू सैनी ने बताया कि सोमवार से विद्यालय खुलेगा। गांव के लोगों के सहयोग से व्यवस्था की गई, जिसमें विद्यालय चलेगा।

 

नदंगाव के ग्रामीणों ने दिया ज्ञापन
बूंदी. ग्राम नदंगाव के ग्रामीणों ने शुक्रवार को विद्यार्थियों की समस्या के समाधान की मांग को लेकर जिला कलक्टर को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में में नंदगाव में आठवीं तक संचालित सरकारी स्कूल को दसवीं तक करने व सुबह के समय रोडवेज बसों के ठहराव की मांग की। ज्ञापन में बताया कि बसों का ठहराव नहीं होने से करीब आठ से दस किलोमीटर की दूरी से विद्यार्थियों को स्कूल आना पड़ता है। धोवड़ा, खटावदा, आलोद व बूंदी से आने वाले छात्र-छात्राओं को परेशानी का सामना करना पड़ता है। इस दौरान सरपंच सुल्तान मीणा, राकेश वर्मा, हेमराज मीणा, भूपेंद्र सिंह नरुका, राजकुमार मीणा आदि लोग मौजूद थे।

Updated On:
24 Aug 2019, 10:11:28 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।