नक्सलियों ने दो लोडर मशीनों को आग के हवाले किया

By: Prateek Saini

Published On:
Sep, 12 2018 05:58 PM IST

  • पुलिस इस घटना की प्राथमिकी दर्ज कर मामले की छानबीन कर रही है...

(पत्रिका ब्यूरो,रांची): झारखंड के लातेहार जिले के बालूमाथ रेलवे स्टेशन में चल रहे कोयला साइडिंग में मंगलवार की रात्रि लगभग 10 बजे प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन पीएलएफआई के उग्रवादियों ने धावा बोलकर दो लोडर मशीनों को आग के हवाले कर दिया। इस दौरान रात्रि प्रहरी का काम कर रहे मुकेश लोहार, सुरेश सिंह, नंदलाल उरांव, बुधन गंझु व अवधेश राम के साथ मारपीट की। इस घटना से लगभग 80 लाख रुपए का नुकसान होने की बात बताई जा रही है। घटना के संबंध में रात्रि प्रहरी ने बताया कि 8 - 10 की संख्या में पूरब दिशा की ओर से नक्सली पहुंचे तथा हथियार के बल पर उन सभी को कब्जे में लेकर मोबाइल लूट कर फेंक दिया तथा मारपीट आरंभ कर दी।


नक्सलियों ने अपने साथ बोतल में लाए गए पेट्रोल को छिड़क कर लोडर मशीन में आग लगा दी और अपने साथ लाए तीन हस्तलिखित पोस्टर मुंशी को दिये और कहा कि अपने मालिक को दे देना। पोस्टर में पीएलएफआई ने घटना की जिम्मेदारी लेते हुए लिखा है कि बिना अनुमति के काम किए जाने के कारण इस घटना को अंजाम दिया गया है।


इस संबंध में बालूमाथ के एसडीपीओ नितिन खंडेलवाल ने कहा कि घटना की सूचना मिलते ही रात्रि में ही बालूमाथ पुलिस पहुंची और आग को बुझाने का प्रयास किया। पुलिस इस घटना की प्राथमिकी दर्ज कर मामले की छानबीन कर रही है।

 

बड़ी संख्या में नक्सली कर रहे आत्मसमर्पण

बता दें कि झारखंड पुलिस की ओर से नक्सलियों को मुख्यधारा में जोडने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत पुलिस आत्समर्पण करने वाले नक्सली को सामान्य जीवन जीने की छूट देती है। इसी के साथ इनामी नक्सलियों के सरेंडर करने पर इनाम की रकम उन्हें प्रोत्साहन राशि के तौर पर दी जाती है। बीते दिनों बहुत से इनामी नक्सलियों ने अपने आप को पुलिस के हवाले कर सामान्य जीवन जीना का प्रण लिया है और वह सभी मुख्यधारा में आकर बहुत खुश है।


यह भी पढे: झारखंड:दो लाख के इनामी नक्सली ने किया आत्मसमर्पण किया

Published On:
Sep, 12 2018 05:58 PM IST