अच्छी सेहत के लिए खाने के तुंरत बाद नहीं बल्कि इस समय पीएं पानी

By: Yuvraj Singh Jadon

Updated On:
10 Feb 2019, 05:26:38 PM IST

  • आयुर्वेद के अनुसार भोजन के बाद पानी पीना जहर के समान है क्योंकि खाने के बाद फौरन पानी पीने से उसका प्रभाव पाचनक्रिया पर पड़ता है

आयुर्वेद के अनुसार भोजन के बाद पानी पीना जहर के समान है क्योंकि खाने के बाद फौरन पानी पीने से उसका प्रभाव पाचनक्रिया पर पड़ता है।

जठराग्नि होती है मंद
हम जो भोजन करते है वह नाभि के बाएं हिस्से में स्थित जठराग्नि में जाकर पचता है। जठराग्नि एक घंटे तक खाना खाने के बाद प्रबल रहती है। आयुर्वेद के मुताबिक इसी अग्नि से खाना पचता है। अगर हम खाने के तुरंत बाद पानी पी लेते हैं तो खाना पचने में काफी दिक्कत होती है। इसलिए आयुर्वेद में खाने और पानी पीने में यह अंतर रखा है। जठराग्नि भोजन को ठीक से पचाकर शरीर को ऊर्जा प्रदान करती है।

पौन घंटे बाद पानी
खाने के बाद पानी पीने से भोजन पचने के बजाय गल जाता है। ऐसा करने से ज्यादा मात्रा में गैस व एसिड बनता है। आयुर्वेद में ऐसे 103 रोगों का जिक्र किया है जो भोजन के तुरंत बाद पानी पीने से होते हैं। खाना खाने के लगभग पौन घंटे या एक घंटे के बाद पानी पीना उचित होता है। खाना खाने से पहले आप पानी पी सकते हैं इससे आप आवश्यकता से अधिक खाने से बच जाते हैं।

Updated On:
10 Feb 2019, 05:26:38 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।