सैकड़ों असंगठित क्षेत्र के मजदूरों ने कलेक्टोरेट व सहायक श्रमायुक्त के दफ्तर पर प्रदर्शन किया

By: Murari Soni

Updated On:
11 Sep 2019, 06:54:01 PM IST

  • श्रमिक मित्रों की आईडी फिर शुरू करने, दो हजार से अधिक मजदूर परिवारों के विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति देने समेत अनेक मांगें

बिलासपुर. 31 श्रम मित्रों की आईडी पुन: बहाल करने और बंद योजनाओं को चालू करने की मांग को लेकर छत्तीसगढ़ भवन निर्माण मजदूर संघ ने कलेक्टोरेट और सहायक श्रमायुक्त कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन किया । कलेक्टर व सहायक श्रमायुक्त को अलग-अलग ज्ञापन सौंपा गया ।

छत्तीसगढ़ भवन निर्माण मजदूर संघ के अध्यक्ष ओमप्रकाश गंगोत्री के नेतृत्व में बुधवार को बृहस्पति बाजार के श्रमिक प्रतीक्षालय से रैली निकाली गईं। यह रैली कलेक्टोरेट तक गईं। वहां पर कलेक्टर के नाम सिटी मजिस्टे्रट अवधराम टंडन को ज्ञापन दिया गया । तत्पश्चात मजदूरों ने न्यू कंपोजिट बिल्डिंग स्थित सहायक श्रमायुक्त कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन किया । सहायक श्रमायुक्त ज्योति शर्मा को ज्ञापन सौंपा गया। रैली प्रदर्शन में प्रमुख रुप से ईश्वर सिंह चंदेल, मधुकर गोरख, विश्राम वस्त्रकार ,छोटेलाल गौतम , किरण पाटले, चंद्रा सोनी समेत सैकड़ों की संख्या में मजदूर मौजूद रहे।

इन मांगों को लेकर प्रदर्शन
छत्तीसगढ़ भवन निर्माण मजदूर संघ की प्रमुख मांगें जिले के 31 श्रम मित्रों का आईडी पुन: बहाल किया जाए। इस आईडी के माध्यम से 72 योजनाओं को जिले के डेढ़ लाख पंजीकृत हितग्राहियों तक पहुंचाया जा सके। भवन व अन्य सन्निर्माण मजदूरों का पंजीयन बंद कर दिया गया है ,इसे पुन: प्रारंभ किया जाए। नौनिहाल छात्रवृत्ति योजना एवं कन्या विवाह सहायता योजना को फिर से शुरू किया जाए। साथ ही योजनाओं की राशि में दो गुना वृद्धि की जाए। वर्ष 2018 की लंबित छात्रवृत्ति राशि का भुगतान और बीमा योजना आवेदन लगाने के एक माह के भीतर हितग्राहियों को राशि भुगतान सुनिश्चित किया जावे । मजदूरों के विभिन्न ऑनलाइन आवेदनों की प्रक्रिया पूरी हो गई है,उन मजदूरों की राशि का तुरंत भुगतान किया जाए।

Updated On:
11 Sep 2019, 06:54:01 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।