कल खुलेगा प्रत्याशियों के भाग्य का पिटारा

By: jay kumar bhati

Updated On:
10 Dec 2018, 09:17:04 AM IST


  • बीकानेर. जिले के सातों विधानसभा क्षेत्रों के विधानसभा चुनाव के मतों की गिनती मंगलवार को पॉलीटेक्निक कॉलेज में होगी। सुबह ८ बजे मतगणना शुरू होने के साथ ही राउंडवार सामने आने वाले परिणामों पर हर किसी की नजरें टिकी रहेंगी। जिले में इस बार अधिकतर सीटों की मतगणना सुर्खियां बटोरेंगी। विशेष रूप से बीकानेर पश्चिम और पूर्व सीट के परिणाम खास रहने वाले हैं।


बीकानेर. जिले के सातों विधानसभा क्षेत्रों के विधानसभा चुनाव के मतों की गिनती मंगलवार को पॉलीटेक्निक कॉलेज में होगी। सुबह ८ बजे मतगणना शुरू होने के साथ ही राउंडवार सामने आने वाले परिणामों पर हर किसी की नजरें टिकी रहेंगी। जिले में इस बार अधिकतर सीटों की मतगणना सुर्खियां बटोरेंगी। विशेष रूप से बीकानेर पश्चिम और पूर्व सीट के परिणाम खास रहने वाले हैं।

 

मतदान के बाद से ही चर्चित सीटों के परिणाम जानने को लेकर उत्सुकता इस कदर बनी हुई है कि चाय के ठेले से लेकर शोरूम तक में लोग चुनावी गुणा-भाग करते नजर आते हैं। देर रात तक शहर के पाटों पर भी जीत-हार की चर्चा चल रही है। मतदान ईवीएम मशीन से कराया गया था। ऐसे में वोटों की गिनती में ज्यादा समय नहीं लगेगा।

 

सुबह ८ बजे ईवीएम मशीनों को खोलकर मतों की गिनती शुरू होगी। दोपहर होने तक मोटा-मोटा चुनाव परिणाम सामने आने की उम्मीद जताई जा रही है। इससे पहले सोमवार को रवीन्द्र रंगमंच में मतगणना का पूर्वाभ्यास और प्रशिक्षण होगा। रविवार को जिला कलक्टर डॉ. एनके गुप्ता और जिला पुलिस अधीक्षक सवाई सिंह गोदारा ने मतगणना स्थल कॉलेज में सुरक्षा व्यवस्था और मतगणना की तैयारियों का जायजा लिया। मतगणना से पूर्व सोमवार को रवीन्द्र रंगमंच में इसका पूर्वाभ्यास और प्रशिक्षण कार्यक्रम होगा।

 

एक साथ खुलेंगी १५ मशीनें
प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के गणना कक्ष में एक साथ १५ टेबल लगाई जाएंगी। इन टेबलों पर ईवीएम मशीनों को मतगणना के लिए रखा जाएगा। बीकानेर पूर्व और पश्चिम विधानसभा क्षेत्र प्रत्याशियों के परिणाम पॉलीटेक्निक कॉलेज के भूतल तथा शेष ग्रामीण विधानसभा क्षेत्रों के परिणाम कॉलेज की ऊपरी मंजिल में घोषित होंगे। टेबल पर रखी सभी मशीनों की प्रक्रिया पूरी होने के बाद गिनती का एक राउंड पूरा होगा। इसके बाद प्रत्याशियों और ईवीएम मशीनों की संख्या के आधार पर राउण्ड तय होंगे।

 

कड़े सुरक्षा बंदोबस्त, ५०० सौ कार्मिक रखेंगे नजर
बीकानेर. जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. एनके गुप्ता ने बताया कि विधानसभा सीटों की मतगणना पर अधिकारियों और कर्मचारियों के बड़े लवाजमे की निगाह रहेगी। उन्होंने बताया कि इस कार्य के लिए पांच सौ कर्मचारियों और अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल १५ लाख ६७ हजार ७०८ मतदाताओं में से ११ लाख ७९ हजार ५८० मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग किया था। मतदान का प्रतिशत ७५.२४ रहा था।
खास सीटों पर एक नजर

 

बीकानेर पश्चिम
बीकानेर पश्चिम से लगातार दो बार विधानसभा चुनाव की हार के बाद कांग्रेस के प्रत्याशी डॉ. बीडी कल्ला और लगातार दो बार से चुनाव जीत रहे भाजपा के प्रत्याशी डॉ. गोपाल जोशी की हैट्रिक का फैसला भी इसी परिणाम में आने वाला है।

 

बीकानेर पूर्व
पूर्व विधानसभा में कांग्रेस की ओर से नोखा से लाकर मैदान में उतारे प्रत्याशी कन्हैया लाल झंवर और दो बार से विधानसभा चुनाव जीत रही भाजपा की सिद्धि कुमारी की जीत-हार को लेकर भी उत्सुकता चरम पर है।

 

श्रीकोलायत
इस विधानसभा क्षेत्र में भी भाजपा की ओर से देवीसिंह भाटी की जगह उनकी पुत्रवधू पूनम कंवर को चुनाव में उतारने के प्रयोग का फैसला सामने आएगा। यहां कांग्रेस के भंवर सिंह भाटी भी दूसरी बार विधायक बनते हैं या नहीं, इस पर सबकी नजर है।

 

खाजूवाला
इस विधानसभा क्षेत्र में लगातार दो बार से भाजपा के टिकट पर विधायक बने डॉ. विश्वनाथ मेघवाल की हैट्रिक भी चुनावी नतीजे तय करेंगे। वहीं कांग्रेस के गोविन्दराम मेघवाल के लिए भी फिर से स्थापित होने के लिए यह निर्णायक चुनाव साबित होने वाला है।

 

श्रीडूंगरगढ़
यहां भाजपा के ताराचंद सारस्वत और कांग्रेस के मंगलाराम गोदारा की किस्मत का फैसला होने के साथ ही माकपा की राजस्थान विधानसभा में सीटों की ताकत का निर्णय भी गिरधारी महिया को मिले वोटों से तय होना है।

 

लूणकरनसर
विधानसभा क्षेत्र में माणिकचंद सुराणा के हटने से कांग्रेस के वीरेन्द्र बेनीवाल और भाजपा के सुमित गोदारा पर सबकी नजरें टिकी है।

 

नोखा
कांग्रेस के मुख्यमंत्री के चेहरों की दौड़ में शामिल रहे नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी की प्रतिष्ठा भी नोखा विधानसभा क्षेत्र में दावं पर है। यहां से कन्हैयालाल झंवर को मैदान से हटाने का दाव कांग्रेस के लिए कितना फायदेमंद साबित होगा यह भी इस परिणाम में सामने आएगा। वहीं भाजपा के बिहारी बिश्नोई का राजनीतिक कॅरियर भी इस चुनाव में निर्णायक मोड़ पर है।

Updated On:
10 Dec 2018, 09:17:04 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।