ज्योतिरादित्य सिंधिया को कांग्रेस ने सौंपी बड़ी जिम्मेदारी, महाराष्ट्र चुनाव के लिए स्क्रीनिंग कमेटी के चैयरमैन नियुक्त

By: Pawan Tiwari

Updated On:
23 Aug 2019, 08:53:21 AM IST

    • ज्योतिरादित्य सिंधिया को लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का महासचिव बनाया गया था।
    • महाराष्ट्र में इस्तीफों का दौरा जारी है, इसे रोकना सिंधिया के सामने सबसे बड़ी चुनौती।

नई दिल्ली/भोपाल. पूर्व केन्द्रीय मंत्री और मध्यप्रदेश कांग्रेस के कद्दावर नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ( Jyotiraditya Scindia ) को कांग्रेस में बड़ी जिम्मेदारी सौंपी गई है। महाराष्ट्र ( Maharashtra election ) में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने स्क्रीनिंग कमेटी का गठन किया है। इस स्क्रीनिंग कमेटी का चैरमैन ज्योतिरादित्य सिंधिया को बनाया गया है। खास बात ये है कि इस स्क्रीनिंग कमेटी में मल्लिकार्जुन खड़गे को का सदस्य बनाया गया है। इसके साथ ही उन अटकलों पर भी विराम लग गया जिसमें कहा जा रहा था कि ज्योतिरादित्य सिंधिया भाजपा ज्वाइन कर सकते हैं।

 

इसे भी पढ़ें- पटवारी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया पर लगाया आरोप, राजनीतिक पद का दुरुपयोग करते हुए कराया तबादला

 

ये हैं स्क्रीनिंग कमेटी के सदस्य
ज्योतिरादित्य सिंधिया को जहां स्क्रीनिंग कमेटी का अध्यक्ष ( chairman of screening committee ) बनाया गया है। सिंधिया के अलावा इस स्क्रीनिंग कमेटी में मणिकम टैगोर, हरीश चौधरी, वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री मल्लिकार्जुन खड़गे, बालासाहेब थोराट और केसी पाडवी इस कमेटी के मेंबर बनाए गए हैं।

 

क्या है स्क्रीनिंग कमेटी का काम
स्क्रीनिंग कमेटी महाराष्ट्र में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों के चयन को लेकर काम करेगी।

 

इसे भी पढ़ें- भाजपा नेता ने कहा- राहुल गांधी कांग्रेस की कमान ज्योतिरादित्य सिंधिया को सौंपे


लोकसभा चुनाव के दौरान बनाए गए थे महासचिव
लोकसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस के तत्कालीन अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया को पार्टी का महासचिव बनाया गया था। उन्हें पश्चिमी यूपी का प्रभार सौंपा गया था। लेकिन पश्चिमी यूपी में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया इस बार गुना-शिवपुरी संसदीय सीट से अपना लोकसभा चुनाव भी हार गए हैं। हालांकि सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, ज्योतिरादित्य सिंधिया पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव बने रहेंगे।

 

jyotiraditya scindia

सिंधिया के सामने बड़ी चुनौती
महाराष्ट में इसी साल चुनाव होने हैं। अभी वहां भाजपा-शिवसेना की सरकार है। ज्योतिरादित्य सिंधिया के सामने सबसे बड़ी चुनौती होगा अपने नेताओं का पार्टी में रोके रखने की। महाराष्ट में चुनाव से पहले पार्टी के कई नेता इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल हो चुके हैं। ऐसे में सिंधिया को पार्टी के नेताओं को एकजुट रखने की सबसे बड़ी चुनौती है।

 

इसे भी पढ़ें- कांग्रेस की हालत देख सिंधिया भाजपा में शामिल हो सकते हैं

 

कांग्रेस ने दी बधाई
मध्यप्रदेश कांग्रेस सिंधिया को चैयरमैन बनाए जाने पर बधाई दी है। कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया जी को महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिये स्क्रीनिंग कमेटी का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। स्क्रीनिंग कमेटी के सभी सदस्यों को बधाई और महाराष्ट्र कांग्रेस को जय-विजय की मंगलकामनाएं। बधाई एवं शुभकामनायें।

 

सिंधिया ने किया था धारा 370 का समर्थन
जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने का जहां कांग्रेस ने विरोध किया था वहीं, ज्योतिरादित्य सिंधिया ने धारा 370 हटाए जाने का समर्थन करते हुए इस फैसले को राष्ट्रहित का फैसला बताया था। सिंधिया के इस फैसले के बाद भाजपा के कई नेताओं ने ज्योतिरादित्य सिंधिया की तारीफ की थी।

Updated On:
23 Aug 2019, 08:53:21 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।