30 करोड़ की जमीन पर लगाएंगे गुमठी बाजार

By: Sumeet Pandey

Published On:
Aug, 13 2019 06:02 AM IST

  • एमपी नगर: नई गुमठियां रखा रही हंै, पुरानी अब तक नहीं उठाईं

भोपाल. एमपी नगर में नगर निगम के माध्यम से सरकारी जमीन पर गुमठियों की शिफ्टिंग करोड़ों रुपए की जमीन पर कब्जे की कवायद की जा रही है। दरअसल एमपी नगर में निगम के आधिपत्य की करीब 55 हजार वर्गफीट जमीन पर गुमठियों को बसाने की तैयारी है। बाजार मूल्य के आधार पर इसकी कीमत 30 करोड़ रुपए के करीब है। गौरतलब है कि निगम के पुराने व जरूरी कामों के लिए जमीन नहीं मिल रही, लेकिन गुमठियों के लिए एमपी नगर में ही तुरंत जमीन की तलाश हो गई। गुमठीवालों व इनके राजनीतिक संरक्षकों के दबाव में नगर निगम ने रेलवे लाइन के किनारे 80 से अधिक जो गुमठियां रख दी थीं, वे अब तक रखी हुई ही है। एमपी नगर में अन्य जगह पर भी गुमठियां लग रही हंै। 200 से अधिक गुमठियां एमपी नगर में नई जगह पर रखी जा चुकी हैं।

निगम इन कामों के लिए जमीन की तलाश ही कर रहा

- निगम को खुद के मुख्यालय के लिए जमीन नही मिल रही। लिंक रोड स्थित अपने वर्कशॉप की 10 एकड़ जमीन पर निर्माण का प्लान बनाया था, लेकिन पीएचई के पेंशनर्स के हाईकोर्ट जाने से मामला उलझ गया।
- एमपी नगर में एक और मल्टीलेवल पार्किंग का प्रस्ताव है, लेकिन इसके लिए जमीन नहीं मिल पा रही है।

- निगम के 35 से अधिक कार्यालय किराए पर संचालित है, उन्हें स्थान नहीं
- 150 पार्क के लिए स्थान की तलाश, लेकिन जमीन की उपलब्धता नहीं है

 

राजनीतिक दबाव, रातोंरात दिए टोकन

स्थिति ये हैं कि रेलवे लाइन किनारे गुमठीवालों को स्थान का टोकन देने में जल्दबाजी की। एक दिन पहले ही रहवासियों-कोचिंग संचालकों ने बड़ा विरोध किया था, लेकिन बावजूद इसके इसे नजरअंदाज करते हुए एमपी नगर मल्टीलेवल पार्किंग में जगह का टोकन दे दिया गया। बताया जा रहा है कि निगम प्रशासन के संबंधित अफसर गुमठीवालों को आश्वासन दे रहे हैं कि वे कुछ दिन शांत रहे, फिर जहां गुमठी रखी है वहां काम शुरू कर देना।

 

रहवासी पशोपेश में
- रहवासी मिलिंद देशपांडे का कहना है कि गुमठियां तो लगातार रखाई जा रही है। रेलवे लाइन किनारे भी नई गुमठियां दिख रही है। अब कोशिश सिर्फ ये हैं कि ये शुरू न हो और हट जाए।

- आर्किटेक्ट रहवासी सुयष कुलश्रेष्ठ का कहना है कि अभी तो हम महापौर और निगम प्रशासन के भरोसे पर शांत बैठे हैं। निगम को इस तरह गुमठियां नहीं रखाना चाहिए। यदि ये शुरू हुई तो फिर से प्रदर्शन होगा।


नए हॉकर्स कॉर्नर विकसित करने का प्रस्ताव पहले ही तैयार है। इसके लिए भी जमीन की तलाश की जाती है। हमने स्पष्ट किया हुआ है कि जहां दिक् कत या विवाद है, वहां गुमठियां न रखी जाएं।

- आलोक शर्मा, महापौर

 

Published On:
Aug, 13 2019 06:02 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।