कलेक्टरों से बोले, शिकायत मिली तो लटका दूंगा

By: Harish Divekar

Published On:
Sep, 12 2018 01:24 PM IST

  • मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कांताराव ने वीडियो कान्फ्रेसिंग से की चुनाव तैयारियों की समीक्षा

किसी भी कलेक्टर की कोई शिकायत मिली तो मैं उसे लटका दूंगा। यह बात मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांताराव ने मंगलवार को समीक्षा वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से चुनाव तैयारियों की समीक्षा करते हुए कही।

उन्होंने कहा कि यदि किसी पार्टी का नेता दादागिरी करता है तो आप लोग उसे मेरा नंबर दे दो। उन्होंने कहा कि आप लोग एक बात अच्छे से समझ लें चुनाव पूरी पारदर्शिता के साथ कराना है, कहीं कोई गड़बड़ी की शिकायत नहीं मिलना चाहिए।

कांताराव ने कहा कि वाहनों से हूटर और पदनाम की नंबर प्लेट हटाने की कार्रवाई तो हो गई, लेकिन आज भी कई वाहनों पर नेता लोग दो बल्ब की बत्ती लगागर वीआइपी बनकर घूम रहे हैं।

इन वाहनों पर भी सख्त कार्रवाई करें। उन्होंने भिण्ड और पन्ना कलेक्टर से कहा कि आपके यहां आबकारी विभाग ने तो अवैध शराब के खिलाफ एक भी कार्रवाई नहीं की है। इसे दिखवाएं शिकायत मिली तो कलेक्टर भी सीधे तौर पर जिम्मेदार माने जाएंगे। कांताराव ने कहा कि अभी से सख्ती शुरू कर दें, जिससे आचार संहिता लगने तक पूरा माहौल बन जाएगा। एडिशनल सीईओ संदीप यादव ने कहा कि हमने कलेक्टरों को बीएलओ की वीडियो कान्फ्रेंस कर चुनावी तैयारियों को देखने को कहा था, लेकिन लगता है कि कलेक्टर इसे लेकर गंभीर नहीं है। यही वजह है कि कई जिलों में मतदाता के नाम जोडऩे और काटने से संबंधित फार्म 6, 7, 8 पेंडिंग हैं। इनमें इंदौर, सीहोर, राजगढ़ और जबलपुर में संख्या ज्यादा है। इसे जल्द से जल्द निपटाएं।

अवैध शराब कारोबारियों पर कसे शिंकजा
सीइओ कांताराव ने कहा कि आचार संहिता से पहले अवैध शराब कारोबारियों को चिन्हित कर उन पर शिकंजा कसा जाए, जिससे आचार संहिता के समय अवैध शराब के कारोबार को पूरी तरह से कंट्रोल किया जा सके। उन्होंने कहा कि इसमें कलेक्टर एसपी संयुक्त रुप से अभियान चलाएं। आदतन अपराधियों पर भी नजर रखी जाए। पुलिस महकमा अभी से मुखबिर तंत्र को मजबूत करें।

Published On:
Sep, 12 2018 01:24 PM IST

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।