निकलने वाली हैं बंपर नौकरियां, रोज़गार देने वाले उद्योगों को सरकार देगी बड़ी सौगात

मध्य प्रदेश में रोज़गार को बढ़ावा देने के लिए सूबे की कमलनाथ सरकार यहां इनवेस्ट करने वाले उद्योगपतियों को बड़ी सौगात देने की तैयारी कर रही है।

भोपाल/ मध्य प्रदेश में रोज़गार को बढ़ावा देने के लिए सूबे की कमलनाथ सरकार यहां इनवेस्ट करने वाले उद्योगपतियों को बड़ी सौगात देने की तैयारी कर रही है। इसका कारण ये है कि, प्रदेश में ज्यादा से ज्यादा उद्योग खुल सकें, ताकि मध्य प्रदेश समेत देश के अन्य राज्यों के लोगों को नौकरी मिल सके। प्रदेश सरकार द्वारा इसके लिए सीमेंट, टेक्नोलाॅजी, ऑटो इंडस्ट्री के साथ-साथ टैक्सटाइल और फार्मा के क्षेत्र में निवेश करने वालों के लिए प्रोत्साहन के नए प्रावधान तय किए हैं। टैक्सटाइल के क्षेत्र में अगर कोई कंपनी 2021-22 तक व्यावसायिक उत्पादन की शुरुआत कर देती है, तो उसे एक रुपए प्रति यूनिट पर बिजली मुहैय्या कराई जाएगी। वहीं, अगर कोई कंपनी प्रदेश में उद्योग पर 1000 से 1500 करोड़ तक निवेश करती है, तो उसे 40 से 10 फीसदी तक सब्सिडी के साथ ब्याज में 5 से 7 फीसदी तक अनुदान दिया जाएगा।

 

पढ़ें ये खास खबर- 99% लोग नहीं जानते कि ब्लेड के बीच में क्यों होता है एक ही तरह का खास डिजाइन, यहां जानिए


इन क्षेत्रों को बड़ी सौगात

बता दें कि, इस वक्त सरकार का पूरा फोकस स्थानीय रोज़गार को बढ़ावा देने पर है। इसीलिए निवेश करने वाले उद्योगपतियों को प्रोत्साहित करने के लिए वो इन उद्योगों द्वारा नौकरी दिये जाने वाले हर व्यक्ति पर 5000 रुपए से 13 हजार रुपए तक राशि बतौर सब्सिडी देगी। इस राशि को नॉन स्किल्ड और स्किल्ड व्यक्ति के अनुसार कंपनी को प्रदान किया जाएगा। बताया जा रहा है कि रोजगार देने पर मिलने वाली प्रोत्साहन राशि और बिजली टैरिफ में पांच रुपए का अनुदान अगले 5 वर्ष तक मिलेगा। राज्य सरकार टैक्सटाइल उद्योगों के लिए भोपाल, इंदौर के साथ जबलपुर की भी ब्रांडिंग कर सकती है। फार्मा क्षेत्र के लिए भी प्रोत्साहन के नए आॅफर को मंजूरी दी गई है। मल्टी स्पेशियलिटी हॉस्पिटल ग्रेड-एक, मल्टी स्पेशियलिटी हॉस्पिटल ग्रेड-दो, सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल और मेडिकल काॅलेज में निवेश करने पर जमीन में 20-40 फीसदी तक की छूट और कैपिटल सब्सिडी 20-40 फीसदी तक दी जाएगी। पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री या स्पेशियलिटी नर्सिंग कोर्स शुरू करने पर भी प्रोत्साहन देने की तैयारी है।

 

पढ़ें ये खास खबर- SBI का ग्राहकों को बड़ा तोहफा, खाते में पैसे ना होने पर भी कर सकते हैं खरीदारी, ऐसे मिलेगा फायदा


उद्योगपतियों में निवेष को लेकर उत्साह

आपको बता दें कि, मुख्यमंत्री कमलनाथ की अध्यक्षता में उद्योग विभाग 18 अक्टूबर को प्रदेश के इंदौर में मैग्नीफिसेंट एमपी समिट आयोजित करने जा रही है, जिसमें सरकार द्वारा निवेशकों को दी जाने वाली सौगातों का ब्योरा रखा जाएगा। उम्मीद जताई जा रही है कि, इस बार समिट में देश-विदेश के लगभग 900 से ज्यादा बड़े उद्योगपति शामिल होंगे। इनमें 700 से अधिक उद्योगपतियों ने समिट में शामिल होने की सहमति दे दी है। इसमें आदित्य बिड़ला समूह के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला, आदि गोदरेज सहित कई अन्य जाने-माने उद्योगपति हिस्सा लेंगे। अंबानी ब्रदर्स समेत करीब 200 से अधिक उद्योग पतियों की सहमति मिलना अभी बाकि है। इनमें 300 से ज्यादा कंपनियों के चेयरमैन, प्रेसीडेंट और एमडी हैं। इनके अलावा 200 से अधिक सीईओ, ईडी, जीएम, बिजनस हेड , सीएफओ और स्टेट हेड आदि हिस्सा लेंगे। मैग्नीफिसेंट एमपी में 70 से ज्यादा कंपनियां एग्जिबिशन स्टाल लगाएंगी। उद्घाटन सत्र में विजुअल होलोग्राफिक शो होगा। सरकार ने मीट के माध्यम से करीब एक लाख करोड़ के निवेश की संभावना जताई है। अगर सबकुछ सरकार के अनुमान के अनुसार हुआ तो आगामी समय में प्रदेश में बंपर नौकरियों के द्वार खुल जाएंगे।

Show More
Web Title: Bumper jobs going out industries providing employment
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।