250 साल से चल रही ऐसी परम्परा

By: Suresh Jain

Updated On: 10 Sep 2019, 08:54:27 PM IST

  • पटवारियों के मंदिर पर किया प्रसाद का आदान-प्रदान
    इमाम हुसैन की याद में निकाले ताजिए

भीलवाड़ा।
Moharram 2019 हजरत मोहम्मद साहब के नवासे इमाम हुसैन की याद में मंगलवार को शहर में ताजियों का जुलूस निकाला गया। विभिन्न मार्गो से होते हुए जुलूस देर रात करबला पहुंचा। जहां परंपरागत रिवाज के अनुसार ताजिए ठंडे किए गए। ताजिए विभिन्न क्षेत्रों से निकाले गए। जो सभी एक साथ बड़े मंदिर के पास आकर मिले। मोहर्रम के जुलूस के दौरान खास बात यह देखने को मिली कि मोहर्रम का जुलूस जब रात ९ बजे पटवारियों के मंदिर पहुंचा। वहां मंदिर व मोहर्रम के प्रसाद का आदान प्रदान किया गया। यह परम्परा करीब 250 साल से चल रही है। सौहार्द की इस मिसाल को लेकर क्षेत्र के हमेशा से आगे रहते है। ताजिए को बारिश से बचाने के लिए प्लास्टिक से ठका गया था।

Moharram 2019 करबला कमेटी के अध्यक्ष मोहम्मद फिरोज गौरी ने बताया कि शहर के सभी मोहर्रम अपने-अपने मुकाम से रवाना हुए। आरके कॉलोनी, चपरासी कॉलोनी, रामनगर, गांधीनगर आदि क्षेत्र के मोहर्रम स्टेशन चौराहा पहुंचे। यहां से जुलूस के रूप में मोहर्रम नीलगरों की मस्जिद पहुंचे। इस दौरान युवा ढोल-ताशों की मातमी घुन पर अखाड़ा प्रदर्शन कर रहे थे।

Moharram 2019 कांवाखेड़ा, मोहम्मदी कॉलोनी, हुसैन कॉलोनी, भोपालपुरा क्षेत्र के मोहर्रम बड़ला चौराहा होते हुए नीलगरों की मस्जिद पहुंचे। इसी प्रकार अंसारी समाज, भवानी नगर व दादाबाड़ी के मोहर्रम का जुलूस धानमंडी में एकत्र हुए। यहां से सभी मोहर्रम बड़ा मंदिर चौक पहुंचे। दिन में तीन बजे करीब यहां से सर्राफा बाजार, भोमियों का रावला होते हुए नीलगरों की मस्जिद के बाहर मुकाम किया। पुरानी कचहरी, पटवारियों का मंदिर, दरगाह होते हुए देर रात बड़ला चौराहा स्थित करबला पहुंचे। जहां करबला कमेटी की देखरेख में ताजिए ठंडे किए गए। इस दौरान जुलूस के मार्ग में कई जगह छबील लगाकर हलीम, मिल्क रोज व दूध का वितरण किया गया।

Updated On:
10 Sep 2019, 08:54:26 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।