तस्कर को दस साल की सजा,  एक लाख रुपए जुर्माने के आदेश

By: Tej Narayan Sharma

Published On:
Sep, 12 2018 10:04 PM IST


  • https://www.patrika.com/rajasthan-news/

भीलवाड़ा।

विशिष्ट न्यायालय (एनडीपीएस मामलात) ने अफीम डोडा चूरा तस्करी के मामले में बड़ला का झोपड़ा (कोटड़ी) निवासी देवीलाल जाट को दोषी मानते बुधवार को दस साल की सजा सुनाई। एक लाख रुपए जुर्माने के आदेश दिए।

 

प्रकरण के अनुसार 5 नवम्बर 2011 को कोटड़ी पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि बड़ला का झोपड़ा गांव में देवीलाल जाट के मकान में अवैध रूप से मादक पदार्थ रखा हुआ है। उसे खुर्दबुर्द करने की फिराक में है। पुलिस ने जाट के घर पर दबिश दी तो तीन बोरों में 99 किलो डोडा चूरा मिला। देवीलाल भाग गया। उसके खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में मामला दर्ज किया। पुलिस ने बाद में देवीलाल को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ अदालत में चालान पेश किया। विशिष्ठ लोक अभियोजक प्रदीप अजमेरा ने अभियुक्त के खिलाफ 13 गवाह व 42 दस्तावेज पेशकर करके आरोप सिद्ध किया।

 

 

जुलूस रोकने की शिकायत पर पहुंचे अफसर तो झूठी निकली सूचना

करेड़ा. क्षेत्र के गोवर्धनपुरा गांव में बुधवार को धार्मिक अनुष्ठान के दौरान किसी ने पुलिस व प्रशासन को जुलूस रोकने की गलत सूचना दे दी। इससे प्रशासन की खासी परेड हो गई। अधिकारी मौके पर पहुंचे। गोवर्धनपुरा गांव मन्दिर के अनुष्ठान के दौरान धार्मिक जुलूस निकाला जा रहा था। इसे लेकर किसी ने पुलिस कंट्रोल रूम पर जुलूस रोकने की सूचना दे दी। इससे अधिकारी हरकत में आ गए। सहाड़ा के अतिरिक्त पुलिस अधिक्षक अरूण माच्या, करेड़ा उपखण्ड अधिकारी उम्मेद सिंह राजावत, माण्डल थानाधिकारी यशवंतसिंह, करेड़ा थानाधिकारी मोरपाल गुर्जर समेत पुलिस लाइन का जाप्ता वहां पहुंचा। मंदिर में धार्मिक कार्यक्रम व जुलूस पूर्ण हो चुका था। इससे सूचना झूठी निकली।

 

 

तेज रफ्तार में अनियन्त्रित होकर पलटा बजरी से भरा ट्रेक्टर, टला बड़ा हादसा

गेंदलिया बजरी माफिया वाहनों में बजरी भरकर तेज रफ़्तार में गांव से गुजर रहे है जिससे हादसे का भय बना हुवा है ग्रामीणो में ऐसा ही नजारा गेंदलिया गांव में देखने को मिला है बजरी से भरा तेज रफ़्तार में अनियंत्रित होकर पलटा जिससे ट्रेक्टर चालक व सड़क पर पैदल चल रही चार महिलाये, मवेशियों के साथ बड़ा हादसा होने से टल गया । बुधवार को गेंदलिया गांव में बनास नदी से बजरी भरकर जीत्या सड़क पर तेज गति व एस्कोर्ट करने वाले से फोन पर ट्रेक्टर चालक बात कर रहा था जिससे जीत्या गांव के बाहर चार महिलाये अपने मवेशियों को लेकर खेत पर जा रही थी अचानक सो फिट दूर बजरी से भरा ट्रेक्टर अनियंत्रित होकर पलट गया जिससे मवेशी व महिलाएं काल का ग्रास होने से बच गई । जिससे बड़ा हादसा होने से टल गया ।

Published On:
Sep, 12 2018 10:04 PM IST

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।