Breaking: NSUI के राष्ट्रीय अध्यक्ष फिरोज के खिलाफ FIR, युवती ने लगाए गंभीर आरोप, राहुल गांधी से की थी शिकायत

By: Dakshi Sahu

Updated On: Sep, 12 2018 12:24 PM IST

  • एनएसयूआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष फिरोज खान पर भिलाई की युवती ने गंभीर आरोप लगाते हुए दिल्ली के पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज कराई है।

भिलाई. एनएसयूआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष फिरोज खान पर भिलाई की युवती ने गंभीर आरोप लगाते हुए दिल्ली के पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। मंगलवार को युवती ने खुद की जान को खतरा बताया। इसके बाद सरकार की तरफ उसे सुरक्षा मुहैय्या कराई गई है। पीडि़ता ने पत्रिका को बताया कि उस पर लगातार दबाव बनाया जा रहा था। इससे पहले पीडि़ता ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से इस मामले की शिकायत की थी।

२९ जून को पहली बार सामने आया था मामला
एनएसयूआई की सदस्य भिलाई की युवती ने संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष फिरोज खान पर इसी साल २९ जून को पहली बार गंभीर आरोप लगाए थे। अध्यक्ष के द्वारा युवती को कमरे पर अकेले बुलाने का यह कथित मामला दिल्ली तक पहुंच गया था। इस सबके बीच उक्त युवती ने कहा था कि मुझे कांग्रेस पर पूरा भरोसा है, सच की लड़ाई लड़ रही हूं इसलिए किसी का भी भय नहीं है। परिवार भी इस लड़ाई में मेरे साथ है। मुझे यकीन है कि कांग्रेस मेरे साथ न्याय करेगी।

राष्ट्रीय स्तर पर जांच कमेटी गठित
मामले की जांच के लिए जांच के लिए जुलाई में राष्ट्रीय स्तर पर कमेटी गठित की गई थी। जिसमें महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुष्मिता देव, हरियाण के सांसद दीपेंद्र हुड्डा और प्रवक्ता राघिनी नायर को रखा गया था। जांच समिति ने 3 जुलाई को युवती का बयान लिया। इधर, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद भी एनएसयूआई अध्यक्ष फिरोज खान को बर्खास्त कर कड़ी सजा की मांग को लेकर सड़कों पर उतर गई थी।

क्या है पूरा मामला
युवती का कहना है कि फिरोज ने उन्हें रात को डेढ़ बजे अपने कमरे पर बुलाया। इसी तरह वाट्सएप पर युवती और फिरोज खान के बीच की बातचीत का स्क्रीन शॉट भी बाहर आ गया। इस पोस्ट में फिरोज खान के द्वारा बार-बार युवती को रूम पर बुलाए जाने का जिक्र है। हालांकि इन दोनों ही वायरल पोस्ट की पुष्टि नहीं हो पाई थी। ई-मेल का जो वाट्सअप पर मैसेज वायरल हो रहा था, उसमें कहा गया था कि फिरोज खान ने संगठन की कार्यकारिणी में बड़ा पद देने के नाम पर युवती को बुलाया। वायरल मैसेज में यह भी लिखा है कि मामले को दबाने के नाम पर मानसिक रूप से भी प्रताडि़त किया गया।

Published On:
Sep, 12 2018 12:24 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।