सुअरों के आगे बेबस हो गई निगम की टीम, हुआ कुछ ऐसा कि कमिश्नर के आदेश से पड़ गया छोडऩा

By: Dakshi Sahu

Updated On:
12 Sep 2018, 01:41:08 PM IST

  • स्वास्थ्य विभाग की टीम की मेहनत उस वक्त पानी फिर गया। जब दो घंटे की मशक्कत के बाद पकड़े गए चार शुकरों को छोडऩा पड़ा।

भिलाई. आवारा शुकर पकडऩे नगर पालिक निगम भिलाई के नेवई वार्ड पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम की मेहनत उस वक्त पानी फिर गया। जब दो घंटे की मशक्कत के बाद पकड़े गए चार शुकरों को छोडऩा पड़ा। दरअसल में नेवई थाना के पीछे रहने वाले लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया था।

कर्मचारियों से गाली-गलौच करने लगे

कर्मचारियों से गाली-गलौच करने लगे थे। विरोध को देखते हुए रिसाली जोन कमिश्नर टीके रणदीवे ने शुकरों को छोडऩे के लिए कह दिया। जैसे ही सुअरों को छोड़ा गया। प्रदर्शनकारी वापस अपने डेरे की ओर लौट गए।

कर्मचारियों के साथ दुव्र्यवहार करने लगे

स्वास्थ्य विभाग की टीम बुधवार को नेवई थाना के पीछे बस्ती से आवारा सुअरों को पकडऩे पहुंची थी। जाल बिछाकर दो घंटे के अंदर चार सुअरों पकड़ चुके थे। सुअरों को पकडऩे की खबर डेरा में रहने वाले लोगों को मिली। सभी मौके पर पहुंच गए। कर्मचारियों के साथ दुव्र्यवहार करने लगे।

जोन कमिश्नर ने दिया आदेश
विवाद को बढ़ता देखकर कर्मचारी नेवई थाने पहुंचे, तो जोन कमिश्नर रणदीवे ने पकड़े गए सुअरों को छोडऩे के लिए कहा दिया। वहीं स्वच्छता निरीक्षक रवि कुशवाहा ने सुअरों को खुला छोडऩे पर कार्रवाई की चेतावनी दी है। अज्ञात के नाम पर थाने में शिकायत भी की है।

निगम चला रही है अभियान
निगम प्रशासन शुकर पकडऩे अभियान चला रही है। अब तक केम्प, खुर्सीपार, छावनी, शारदापारा, सुपेला, संजय नगर क्षेत्र से 170 से अधिक शुकर पकड़ चुकी है। शहर से दूर सरायपााली और नंदनी नगर माइंस एरिया में ले जाकर छोड़ देते हैं।

बुजुर्ग महिला की ले चुके हंै जान
शुकर और कुत्तों ने अर्जुन नगर की रहवासी बुजुर्ग महिला को नोच-नोचकर जान ले ली थी। इसके बाद निगम प्रशासन ने सुअरों को पकडऩे और शहर से बाहर जंगल में ले जाकर छोडऩे की शर्त पर हैदराबाद की एजेंसी को ठेका में दिया है।

Updated On:
12 Sep 2018, 01:41:08 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।