राष्ट्रपिता की 150वीं जयंती पर निकाली संदेश यात्रा, बच्चों को बताए गांधी के विचार

By: rohit sharma

|

Published: 13 Aug 2019, 08:03 AM IST

Bharatpur, Bharatpur, Rajasthan, India

भरतपुर. राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के 150वें जयन्ती वर्ष पर सोमवार को जिले में विभिन्न कार्यक्रमों का शुभारंभ हुआ। जिला मुख्यालय पर गांधी संदेश यात्रा निकाली गई व गांधीजी के जीवन और उनके विचारों पर आधारित तीन दिवसीय चित्र प्रदर्शनी मोहन से महात्मा का शुभारम्भ हुआ। पर्यटन एवं देवस्थान मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने महाराजा बदन सिंह उच्च माध्यमिक विद्यालय से गांधी संदेश यात्रा को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। रैली में महाराजा बदन सिंह स्कूल और मास्टर आदित्येन्द्र स्कूल समेत विभिन्न विद्यालयों के 500 बच्चे, शिक्षा विभाग के अधिकारी, विभिन्न प्रधानाध्यापक, अध्यापक व शारीरिक शिक्षक शामिल रहे।

 

रैली शहर के मुख्य मार्गों से होकर सूचना केन्द्र पहुंची, जहां सभी प्रतिभागियों ने प्रदर्शनी का अवलोकन किया। पर्यटन मंत्री ने बताया कि नई पीढी को गांधी जी के जीवन और विचारों से परिचित कराने के लिए ये प्रयास बहुत महत्वपूर्ण हैं। इससे युवाओं को सही दिशा में प्रेरणा मिलेगी। उन्होंने महाराजा बदन सिंह विद्यालय परिसर का औचक निरीक्षण भी किया तथा यहां पढ रहे विद्यार्थियों और स्टाफ की संख्या, शैक्षणिक व्यवस्था आदि की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि शहर में अंग्रेजी माध्यम का सरकारी विद्यालय खुलने से अभिभावकों को बड़ी राहत मिली है। इस विद्यालय में अब तक 237 विद्यार्थियों ने प्रवेश लिया है। इस अवसर पर जिला परिषद के सीईओ बीएल रमण, एडीएम प्रशासन नारायण सिंह चारण, पुलिस उप अधीक्षक परमाल सिंह, जिला कार्यक्रम संयोजक डॉ. सौदान सिंह आदि उपस्थित थे।


शहीद वीरांगनाओं और स्वतन्त्रता सेनानियों ने किया उद्घाटन

रैली के बाद सूचना केन्द्र में गांधीजी के जीवन और उनके विचारों पर आधारित 3 दिवसीय चित्र प्रदर्शनी मोहन से महात्मा का शुभारम्भ जिले की पांच शहीद वीरांगनाओं और तीन स्वतंत्रता सेनानियों ने किया। इस अवसर पर इनके परिजन भी उपस्थित रहे। शहीद वीरांगनाओं में जयलता देवी पत्नी शहीद सिपाही रामस्वरूप निवासी पास्ता तहसील डीग, सुनीता देवी पत्नी शहीद नायक धर्मवीर सिंह भरतपुर, पुष्पा देवी पत्नी शहीद कांस्टेबल रनजीत सिंह ग्राम बाजाहेड़ा तहसील नगर, ज्ञानवती पत्नी शहीद हवलदार साहब सिंह ग्राम गारौली तहसील डीग और शहीद सूबेदार महतापसिंह ग्राम बुरावई तहसील कुम्हेर की पत्नी तथा स्वतन्त्रता सेनानियों में हुकमचन्द सैनी निवासी झंझार नगर, रामजीलाल यादव निवासी आलमशाह नगर और गोपालराम भावरा निवासी बयाना शामिल हैं। इनके साथ इनके परिजन भी उपस्थित रहे। इन सभी ने गांधीजी के चित्र पर माल्यापर्ण किया।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।