आक्रोशित ग्रामीणों ने आदमखोर तेंदुए को पकडऩे की मांग, सौंपा ज्ञापन

By: Vishal Yadav

Updated On:
25 Aug 2019, 10:52:42 AM IST

  • ग्रामीणों ने कहा कर्मचारी-अधिकारियों की लापरवाही से महिला की गई थी जान, आदमखोर तेंदुआ पकडऩे को लगाए छह पिंजरे

बड़वानी/पानसेमल.
क्षेत्र में आदमखोर हो चुके तेंदुए को पकडऩे के लिए वन विभाग की टीम ने यहां कुल 6 पिंजरे लगाए है। इनमें से 4 पिंजरे इंदौर के रालामंडल और दो पिंजरे बड़वानी से बुलाए गए है। इधर, शुक्रवार को क्षेत्र में एक महिला पर हमला कर उसे मौत के घाट तेंदुए द्वारा उतारे जाने की घटना के बाद ग्रामीणों में आक्रोश है। ग्रामीणों ने इस मामले में कलेक्टर के नाम ज्ञापन दिया है। ग्रामीणों ने वन विभाग पर लापरवाही करने का आरोप लगाते हुए तेंदुए को शीघ्र पकडऩे की मांग की है।
आदमखोर तेंदुए को पकडऩे को लेकर ग्रामीणों ने शनिवार को कलेक्टर अमित तोमर के नाम एक ज्ञापन एसडीएम को सौंपा। ज्ञापन में बताया कि वर्तमान में खेतिया, पानसेमल क्षेत्र में एक आदमखोर तेंदुआ का आतंक है। इससे किसान, मजदूर एवं आम नागरिक दहशतभरी जिंदगी जी रहे है। आए दिन ये तेंदुआ ग्रामीणों को अपना शिकार बना रहे है। इसी वजह से खेतों में ना जो मजदूर काम कर पा रहे है ना ही कोई किसान फसल की देखरेख करने जा रहा है।

जुनापानी में ग्रामीणों द्वारा तेंदुओं को देखा गया
ग्रामीणों ने बताया कि पिछले दिन ग्राम जुनापानी में सुबह 9 बजे से ग्रामीणों द्वारा तेंदुओं को देखा गया। इसकी सूचना स्थानीय वन विभाग को फोन पर भी दी गई। जिसे अनसुना कर कर्मचारी-अधिकारियों की लापरवाही से एक महिला की जान को गवाना पड़ी। ग्रामीणों का कहना है कि यदि वनकर्मी अधिकारी तत्काल समय पर पिंजरा लेकर अपनी सक्रियता बताते तो शायद महिला की जान को बचाया जा सकता है। इसके लिए कर्मचारी-अधिकारियों पर लापरवाही का प्रकरण दर्ज होना चाहिए, ताकि भविष्य में अपनी सक्रियता व कर्तव्य के प्रति जागरूक रहे। ग्रामीणों ने बताया कि क्षेत्र में घूम रहे 4 से 5 तेंदुआ को बच्चों सहित ग्रामीणों ने देखा है। उन सभी को पकडऩे के लिए तेज अभियान चलाए। वहीं भाजपा मंडल पानसेमल ने भी दोपहिया वाहन रैली निकालकर एसडीएम को ज्ञापन सौंपा गया।
ग्रामीण और किसानों ने किया फारेस्ट विभाग का घेराव
ग्रामीण और किसानों फारेस्ट विभाग का घेराव कर ज्ञापन सौंपा। इसमें समूचे ग्रामीण और किसान संघ के नेता, कार्यकर्ता आदि मौजूद थे। जहां वन मंडल के रेंजर मगेश मुंदेला, तहसीलदार राकेश सस्तिया, थाना प्रभारी सीएस बघेल ने बताया कि हमारे द्वारा क्षेत्र में पिंजरे पहुंचा दिए है। अब रेस्क्यू टीम द्वारा आदमखोर तेंदुए को पकड़ा जाएगा। इसमें शनिवार को वन विभाग की टीम मौके पर 4 पिंजरे लेकर पहुंच चुकी है। 2 पिंजरे बड़वानी से ओर मंगाए जा रहे है।

 

Updated On:
25 Aug 2019, 10:52:42 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।