पूरा शहर नींद के आगोश में था,अचानक बारां शहर में देर रात चले 30-30 फीट तक ऊंचे फव्वारे,

By: Shiv Bhan Singh

Updated On:
11 Jul 2019, 05:01:26 PM IST

  • अचानक धमाका हुआ और फव्वारे चल उठे। फव्वारों की ूंचाई तीस से चालीस फीट थी। फव्वारों के चलते ही लोग जुटने लगे। कुछ अपने परिचितों को फोन करने लगे। शहर के मुख्य मार्ग पर देर रात पाइप लाइन फूट गई थी। इससे हजारों लीटर पीने का पानी बह गया। घंटेों यह अमृत बहता रहा लेकिन किसी ने इसे रोकने की जहमत नहीं उठाई।

पूरा शहर नींद के आगोश में था,अचानक बारां शहर में देर रात चले ३०-३० फीट तक ऊंचे फव्वारे,

बारां शहर में बुधवार की देर रात जब पूरा शहर नीद के गहर ेआगोश में था। लोग मीठी नींद का आनन्द ले रहे थे। अचानक एख धमाका हुआ और फव्वारे चल उठे। फव्वारों की ूंचाई तीस से चालीस फीट थी। फव्वारों के चलते ही लोग जुटने लगे। कुछ अपने परिचितों को फोन करने लगे। शहर के मुख्य मार्ग पर देर रात पाइप लाइन फूट गई थी। इससे हजारों लीटर पीने का पानी बह गया। घंटेों यह अमृत बहता रहा लेकिन किसी ने इसे रोकने की जहमत नहीं उठाई। घंटों बाद सरकारी स्टाइल में जलदाय विभाग के अधिकारी और कर्मचारी पहुंचे और इन फव्वारों को बंद किया। लेकिन तब तक काफी पानी बह चुका था। पानी बहजाने से शहर के इलाकों में जलापूर्ति नहीं हो पाई।

शहर में देर रात को सीवरेज की लाइन डालनें के लिए जेसीबी से सड़क खोदी जा रही थी। इसी दौरान कर्मचारीयों की लापरवाही से पेयजल की लाइन टूट गई। जिसके कारण पेयजल की लाइन से पानी के 30- 40 फिट तक के फव्वारें फूट गयें ओर हजारों लीटर पानी व्यर्थ सड़क पर बहता रहा। बाद में जलदाय विभाग को सूचना दी गई।
दो घंटे बाद पेयजल आपूर्ति की लाइन को बंद किया जब जाकर व्यर्थ बहता पानी रूका। लेकिन जब तक हजारों लीटर पानी बह गया था।
पेयजल की लाइन टूटनें के कारण आज शहर की कई काॅलोनियों में पेयजल आपूर्ति ठप रहेगी। जिससें लोगों को पेयजल संकट का सामना करना पड़ेगा।
जलदाय विभाग के एईएन डालूराम मेहता ने बताया कि पेयजल लाइन टूटने से हजारों लीटर पानी व्यर्थ बह गया। इस लाईन के टूटने से आधे शहर की पेयजल आपूर्ति प्रभावित हो गई है।
उन्होंने बताया कि सिवरेज निर्माण कंपनी के खिलाफ शहर कोतवाली में मुकदमा दर्ज करवाया जाएगा।

Updated On:
11 Jul 2019, 05:01:26 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।