कृष्ण जन्माष्टमी : बांसवाड़ा में मध्यरात्रि पर मंदिरों में बजे घंट-घडिय़ाल, कान्हा के जन्मोत्सव में झूमे श्रद्धालु

By: deendayal sharma

Updated On:
25 Aug 2019, 01:24:05 PM IST

  • बांसवाड़ा मेंयशोदानंदन भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव शनिवार को श्रद्धा और भक्तिभाव से मनाया गया। मध्यरात्रि रोहिणी नक्षत्र में भगवान का जन्म होते ही मंदिरों में घंट-घडिय़ाल बज उठे। नंद घर आनंद भयो, जय कन्हैयालाल की..., आलकी पालकी जय कन्हैयालाल लाल की... व भगवान मुरलीधर के जयकारों से समूचा वातावरण गुंजायमान हो उठा। मोरपंखी मुकुट और बंशीधर की भक्ति में भक्तजन गोते लगाते रहे।

बांसवाड़ा. यशोदानंदन भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव शनिवार को श्रद्धा और भक्तिभाव से मनाया गया। मध्यरात्रि रोहिणी नक्षत्र में भगवान का जन्म होते ही मंदिरों में घंट-घडिय़ाल बज उठे। नंद घर आनंद भयो, जय कन्हैयालाल की..., आलकी पालकी जय कन्हैयालाल लाल की...ज् व भगवान मुरलीधर के जयकारों से समूचा वातावरण गुंजायमान हो उठा। मोरपंखी मुकुट और बंशीधर की भक्ति में भक्तजन गोते लगाते रहे।
जन्माष्टमी पर शनिवार को शाम होते ही मंदिरों में पूजन-अर्चन और भजन-कीर्तन का दौर शुरू हो गया, जो मध्यरात्रि तक चला।कृष्ण जन्मोत्सव से ही पूर्व मंदिरों में दर्शन के लिए श्रद्धालुओं का आना शुरू हो गया। रोशनी से लकदक आजाद चौक स्थित रूपचतुर्भुजराय, राधाकृष्ण मंदिर, कल्याणराय, रणछोडऱाय, महालक्ष्मी चौक स्थित लक्ष्मीनारायण मंदिर, भोजापालिया स्थित श्री नृसिंह मंदिर, पीपली चौक स्थित रघुनाथ मंदिर, खांदू कॉलोनी अमरदीप नगर स्थित राधाकृष्ण शंख मंदिर में भगवान की झांकियां सजाई गई। श्रद्धालुओं की रेलमपेल मध्यरात्रि तक बनी रही। बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के आने से मंदिरों में पैर रखने की जगह नहीं थी। कान्हा के जन्मोत्सव पर मंदिरों में विशेष रूप से च्पंजरीज् का प्रसाद वितरित किया गया।
घरों में भी सजाई झांकियां
श्रद्धालुओं ने घरों में भी भगवान का जन्मोत्सव मनाया। भगवान का पूजन आदि कर झूले में झुलाया। भजन-कीर्तन किए और प्रसाद वितरित किया। कई लोगों ने घरों में नन्हें बच्चों को कान्हा का वेश धारण कराया।

Updated On:
25 Aug 2019, 01:24:05 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।