हकरू मईड़ा ने पूर्व मंत्री धनसिंह रावत पर लगाया सरकारी भूमि पर कब्जा कर अवैध निर्माण कराने का आरोप, कलक्टर और एसीबी से की शिकायत

By: Mradul Purohit

Updated On:
20 Jul 2019, 03:20:31 PM IST

  • Hakaru Maida Accused Dhan Singh Rawat : ज्ञापन की प्रति मुख्यमंत्री, राजस्व मंत्री, एसीबी महानिदेशक आदि को भी भेजी

बांसवाड़ा. गत विधानसभा चुनाव में टिकट नहीं मिलने पर बागी चुनाव लड़े धनसिंह रावत और भाजपा प्रत्याशी रहे हकरू मईड़ा के बीच चुनावी रार बनी हुई है। शुक्रवार को हकरू मईड़ा व अन्य ने जिला कलक्टर को ज्ञापन दिया, जिसमें तत्कालीन राज्यमंत्री धनसिंह रावत पर पद का दुरुपयोग करने, अवैध रूप से निर्माण और भूमि पर कब्जा करने के आरोप लगाते हुए गहन जांच की मांग की गई है।

सांसद कटारा ने संसद में उठाया वागड़ में साईं ग्रुप की ओर से ठगी का मुद्दा, दोषियों को सजा और लोगों की राशि दिलवाने का किया आग्रह

कलक्टर को दिए ज्ञापन में कहा गया है कि तत्कालीन राज्यमंत्री धनसिंह रावत ने अपने मकान में नगर परिषद की अनुमति के बगैर स्वीकृति के विपरीत और अधिक भूमि पर निर्माण किया है। हाउसिंग बोर्ड स्थित मकान के सामने खसरा नंबर 345/41-271 पर बगैर निर्माण स्वीकृति के निर्माण कार्य किया है और श्री सरकार भूमि पर कब्जा कर लिया है। इसके अलावा खातेदारी की कृषि भूमि में से सडक़ निर्माण के लिए अवाप्त की गई भूमि पर भी कब्जा कर लिया है और शपथ पत्र में निष्पादित शर्तों का उल्लंघन किया है।

सालभर बीत गया लेकिन सडक़ें चौड़ी नहीं कर पाए जिम्मेदार, अब नगर परिषद और पीडब्ल्यूडी रो रहे बजट का रोना, आमजन परेशान

कई गंभीर आरोप
ज्ञापन में रावत पर अन्य कई गंभीर आरोप लगाए गए है। साथ ही निर्माण कार्यों की जांच, वर्तमान में चल रहे कार्यों को बंद करने और दोषी जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। ज्ञापन की प्रति मुख्यमंत्री, राजस्व मंत्री, एसीबी महानिदेशक आदि को भेजी है। इस पर हकरू मईड़ा के अतिरिक्त हरीश कुमार व अन्य ने हस्ताक्षर किए हैं। इस संबंध में रावत से उनका पक्ष जानने के लिए संपर्क किया, लेकिन उनका मोबाइल स्वीच ऑफ आया।

Updated On:
20 Jul 2019, 03:20:31 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।