गर्भवती युवती से सामूहिक बलात्कार के आरोपियों को हिरासत में रखने के आदेश, प्रेमी पर तलवार से किया था हमला

By: Varun Bhatt

|

Published: 13 Aug 2019, 04:59 PM IST

Banswara, Banswara, Rajasthan, India

बांसवाड़ा. करीब एक माह पहले सदर थाना इलाके में प्रेमी पर तलवार से हमला और गर्भवती प्रेमिका से सामूहिक बलात्कार के मामले में गिरफ्तार चारों आरोपियों को पुलिस ने सोमवार को न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें न्यायिक अभिरक्षा के साथ पुलिस अभिरक्षा मेंं भी रखने के आदेश दिए गए। पुलिस अब इन आरोपियों निचला घंटाला निवासी सुनील पुत्र छगन चरपोटा, विकास पुत्र वागू उर्फ वागजी, पप्पू उर्फ नरेश पुत्र गब्बू गुर्जर तथा विजय पुत्र कलजी चरपोटा की न्यायिक मजिस्ट्रेट की स्वीकृति के बाद जिला कारागृह में शिनाख्त परेड करवाएगी। उल्लेखनीय है कि इन आरोपियों को पुलिस ने रविवार को गिरफ्तार किया था। इससे पहले 30 जुलाई को पुलिस ने निचला घंटाला निवासी जीतू उर्फ जितेन्द्र को गिरफ्तार किया था।

बाइक सवारों को चपेट में लेकर यात्रियों से भरी बस भी पलटी, दो युवकों की दर्दनाक मौत, मचा हाहाकार

युवती का गर्भपात कराया
पुलिस उप अधीक्षक प्रभाती लाल ने बताया कि पांचों आरोपियों ने गर्भवती से बारी-बारी से बलात्कार किया। इससे गर्भ में परेशानी आने पर 17 जुलाई को गर्भपात करवाया गया। पुलिस के अनुसार वारदात में पहले पुलिस ने तीन आरोपी माने, लेकिन जब गर्भवती युवती ने कोर्ट में 164 के बयान दिए तो उनमें उसने पांच आरोपियों के बलात्कार करने की बात कही थी।

बीच सडक़ पलटा अनियंत्रित टैम्पो, मच गई चीख-पुकार, 6 महीने की बच्ची से लेकर 50 साल तक की उम्र के 13 लोग घायल

पुलिस ने डाले रखा पर्दा
युवती के गर्भवती होने की बात पुलिस ने दबाए रखी। जबकि युवती महात्मा गांधी चिकित्सालय में भर्ती रही और फिर उसे उदयपुर रैफर भी किया गया। पुलिस ने युवती से बलात्कार एवं अन्य घटना के बारे में तो पूरी जानकारी दी, लेकिन युवती के गर्भवती होने के मामले में चुप्पी साधे रखी। अब जब पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार तो यह भी साफ किया कि युवती गर्भवती थी।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।