बांसवाड़ा : लोकतंत्र के उत्सव में बिखरेंगे संस्कृति के रंग, आदर्श मतदान केन्द्रों पर गोटियो करेगा स्वागत

By: Mradul Purohit

Updated On:
06 Dec 2018, 03:01:20 PM IST

बांसवाड़ा. लोकतंत्र के उत्सव के तहत पहली बार जनजाति बहुल्य जिला बांसवाड़ा के आदर्श मतदान केन्द्र स्थानीय संस्कृति के रंग में रंगे नजर आएंगे। जिले के पांच मतदान केन्द्रों पर ढोल, कुण्डी, तासों और शहनाई जैसे परंपरागत वाद्य यंत्रों की गूंज के साथ उत्सवी माहौल दिया जाएगा। जिला प्रशासन की ओर से तैयार किया गया कार्टून करेक्टर गोटियो खुद मतदाताओं का स्वागत करता नजर आएगा। जिला निर्वाचन अधिकारी भगवती प्रसाद ने बताया कि प्रत्येक आदर्श मतदान केन्द्र पर गोटियो की वेशभूषा में एक व्यक्ति को स्वागत द्वार पर बैठाया जाएगा, जो आने वाले सभी मतदाताओं का अभिवादन करेगा। इसमें व्यक्ति पीला कुर्ता या टी-शर्ट व धोती पहने हुए रहेगा। आंखों पर काला चश्मा व सिर पर लाल रंग का साफा होगा। उन्होंने बताया कि समस्त रिटर्निंग अधिकारियों को आदर्श मतदान केन्द्र पर गोटियो को अभिवादन के लिए उपस्थित रहने के निर्देश दिए हैं।

राजस्थान का रण : बांसवाड़ा विधानसभा में कांटे का मुकाबला, वोटों के बंटवारे की तगड़ी चुनौती

इन मतदान केन्द्रों पर होंगी विशेष सुविधाएं
महिला एवं आदर्श मतदान केन्द्र निर्माण के लिए नियुक्त नोडल अधिकारी विजयेश पण्ड्या ने बताया कि निर्वाचन विभाग के निर्देशानुसार घाटोल विधानसभा क्षेत्र में राजकीय श्री एकलिंगनाथ वरिष्ठ उपाध्याय संस्कृत विद्यालय, गनोड़ा, गढ़ी विधानसभा में राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय वजवाना, बांसवाड़ा विधानसभा में राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय मोहन कॉलोनी, बागीदौरा विधानसभा की भाग संख्या 48 के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, नौगामा के कक्ष संख्या एक तथा कुशलगढ़ विधानसभा की भाग संख्या 178 के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, कुशलगढ़ के दायां भाग में आदर्श मतदान केन्द्र स्थापित होंगे।

Video : पत्रिका जन एजेंडा : कुशलगढ़ की बस यही आस थमे पलायन, बढ़े शिक्षा-चिकित्सा, बुझे खेतों की प्यास

आकर्षक साज-सज्जा वाला होगा केन्द्र
आदर्श मतदान केन्द्र आकर्षक साज-सज्जा वाला होगा। प्रवेश व स्वागत द्वार के साथ दो दरवाजों वाला होगा। एक दरवाजा प्रवेश तथा दूसरा निकासी द्वार होगा। मतदान केन्द्र के पूरे भवन पर आकर्षक रंग-रोगन के साथ-साथ फर्रियों, गुब्बारों आदि से सजाया जाएगा। यहां पहुंचने वाले मतदाताओं का उत्सवी माहौल में स्वागत किया जाएगा। केन्द्र पर महिला व पुरुष शौचालय की अलग-अलग व्यवस्था होगी। मतदाताओं के लिए शुद्ध पेयजल, मतदान की प्रतीक्षा में खड़े मतदाताओं के लिए छाया की व्यवस्था की जाएगी। इसी प्रकार दिव्यांगों के लिए रेंप व सहायक उपकरण जैसे व्हील चैयर तथा बुजुर्गों के बैठने के लिए पर्याप्त कुर्सियों की व्यवस्था होगी। मतदान केन्द्र पर बिजली, पंखों के साथ उचित साइन बोर्ड व बेरिकेड्स की व्यवस्था होगी। मतदाताओं के लिए हेल्प डेस्क स्थापित करने के साथ पानी पिलाने के लिए स्वयंसेवक नियुक्त किए जाएंगे।

 

Updated On:
06 Dec 2018, 03:01:20 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।