देवस्थान विभाग अब बुजुर्गों को मथुरा-वृंदावन के साथ नेपाल में भी करवाएगा तीर्थयात्रा, 28 जुलाई तक कर सकते हैं आवेदन

By: Varun Kumar Bhatt

Updated On:
18 Jul 2019, 07:05:48 PM IST

  • Devasthan Division Pilgrimage : देवस्थान विभाग ने सूची में जोड़े नए तीर्थ और पर्यटन स्थल

बांसवाड़ा. देवस्थान विभाग की ओर से संचालित वरिष्ठ नागरिक तीर्थयात्रा योजना में इस वर्ष महत्वपूर्ण बदलाव किए गए हैं। इन बदलावों से ज्यादा लोग यात्रा का लाभ ले सकेंगे और अधिक स्थानों की यात्रा कर सकेंगे। इस बार सेवानिवृत्त राज्य कर्मचारी व उनके जीवनसाथी और सैन्य व पुलिस बलों के वरिष्ठ नागरिकों के लिए भी प्रावधान किया है। इस वर्ष 5 हजार बुजुर्ग ट्रेन से और पांच हजार बुजुर्ग हवाई जहाज से यात्रा कर सकेंगे। 28 जुलाई तक ऑनलाइन आवेदन किए जा सकेंगे।

वागड़ में अच्छी बारिश के लिए धूमधाम से करवाया मेंढक-मेंढकी का विवाह, गाजे-बाजे के साथ झूमें बाराती, लगवाए सात फेरे

हवाई यात्रा में ये तीन नए सर्किट जुड़े
पशुपति नाथ के दर्शन के लिए नेपाल की राजधानी कांठमांडू तक हवाई जहाज और आगे की यात्रा बस से वरिष्ठ यात्रियों को कराई जाएगी। गंगासागर दक्षिणेश्वर, काली- वैलूरमठ कोलकत्ता यात्रा में यात्रियों को कोलकाता तक हवाई जहाज से और आगे बस द्वारा यात्रा कराई जाएगी। देहरादून-हरिद्वार-ऋषिकेश सर्किट में देहरादून तक हवाई जहाज में और आगे बस के द्वारा यात्रियों को ले जाया जाएगा।

व्हाट्स एप से जुड़े रहेंगे अधिकारी
तीर्थ यात्रा योजना में हवाई और रेल मार्ग पर 5-5 फीसदी सीटें पत्रकारों के लिए आरक्षित की गई हैं। योजना का लाभ 60 वर्ष या अधिक आयु के पत्रकार ले सकेंगे। यात्रा से जुड़े सभी अधिकारी एवं यात्रियों के साथ गए अधिकारी और कार्मिक व्हाट्स एप ग्रुप के माध्यम से जुड़े रहेंगे ताकि उनके बीच समन्वय बना रहे। इसके अतिरिक्त यात्रियों की सुविधा के लिए नियंत्रण कक्ष स्थापित किया जाएगा। संयुक्त शासन सचिव या सहायक शासन सचिव को इस कक्ष का नोडल अधिकारी नियुक्त किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने विधानसभा में की घोषणा : डूंगरपुर में खुलेगा विधि कॉलेज, बांसवाड़ा शहर में बनेगा टाउन हॉल

65 वर्ष के बुजुर्गों और सेवानिवृत्त कार्मिकों को मिली राहत
योजना के नियमों में इस वर्ष बदलाव भी किया गया है। जहां पूर्व में 70 वर्ष या उससे अधिक आयु के वरिष्ठ यात्री ही सहायक ले जा सकते थे। वहीं अब यह आयु सीमा 65 वर्ष या इससे अधिक कर दी है। मुख्ययात्री के साथ रेल यात्रा में जाने वाले पुरुष सहायक की आयु सीमा 21 वर्ष से 50 वर्ष के बीच होनी चाहिए। सेवानिवृत्त सरकारी कर्मचारी भी योजना का लाभ उठा सकेंगे।

बदलाव से मिलेगा लाभ
इस वर्ष योजना में कुछ बदलाव किए गए हैं जिससे अधिक से अधिक बुजुर्ग और अधिक से अधिक स्थानों के दर्शन कराए जा सकें।
अमर सिंह चौहान, मैनेजर, देवस्थान विभाग, बांसवाड़ा-डूंगरपुर

Updated On:
18 Jul 2019, 07:05:48 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।