राजस्थान : उल्टी-दस्त के शिकार 40 बच्चे अस्पताल में भर्ती, अभिभावकों ने स्कूल में पोषाहार खाने के बाद बीमार होने का लगाया आरोप

By: Varun Kumar Bhatt

Updated On:
11 Jul 2019, 06:13:34 PM IST

  • सज्जनगढ़ क्षेत्र के राजकीय प्राथमिक स्कूल कसारवाड़ी का मामला, पोषाहार प्रभारी ने आरोपों को नकारा

सज्जनगढ़/बांसवाड़ा. सज्जनगढ़ उपखंड के कसारवाड़ी स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय के करीब चालीस छात्र उल्टी-दस्त के शिकार हो गए। सभी बीमार छात्रों को डूंगरा छोटा व कसारवाड़ी के प्राथमिक चिकित्सालयों में भर्ती कराया गया। जहां स्वास्थ्य में सुधार है। यहां तीस छात्रों का उपचार जारी है। दस को छुट्टी दे दी गई। बुधवार रात व गुरुवार को पेट-दर्द, उल्टी-दस्त की शिकायत होने पर एक-एक कर बच्चे अस्पताल पहुंचने लगे। घटना की जानकारी मिलते ही तहसीलदार खातुराम कटारा अस्पताल पहुंचे और जानकारी ली। छात्रों व अभिभावकों ने बताया कि मंगलवार दोपहर 12 बजे स्कूल में पोषाहार में पके दाल-चावल खाए थे। इसके बाद बुधवार सुबह करीब पांच बजे अचानक बच्चों को उल्टी दस्त व पेट दर्द होने लगा। इस पर परिजन करीब दस बच्चों को कसारवाड़ी चिकित्सालय लेकर आए। वहां कोई चिकित्सक नहीं मिला तो डूंगरा छोटा सामुदायिक चिकित्सालय ले गए। वहां उपचार शुरू किया गया। इधर, गुरुवार सुबह करीबन 30 से अधिक छात्रों को भी उल्टी-दस्त की शिकायत होने के बाद कसारवाड़ी सामुदायिक चिकित्सालय लाया गया। जहां भर्ती कर उपचार शुरू किया गया।

विधानसभा में गूंजा बच्चों को गिरवी रखने का मुद्दा, चौरासी विधायक और नेता प्रतिपक्ष बोले- ‘ऐसी घटनाएं राजस्थान पर धब्बा’

इधर आरोप प्रत्यारोप
तहसीलदार कटारा ने जलदाय विभाग के सहायक अभियन्ता लालजी कटारा को मौके पर बुलाया ओर पानी की जांच के निर्देश दिए। सहायक अभियन्ता कटारा ने पानी से बीमार होने की बात को सिरे से खारिज कर दिया। कटारा ने बताया कि पानी दूषित होता तो छात्रों के साथ साथ परिवार के लोग भी बीमार हो जाते। वही मिड डे मिल प्रभारी राकेश कटारा ने बयान में दावा किया कि छात्र पोषाहार सेवन से बीमार नहीं हुए। मंगलवार को 324 छात्रों ने दाल चावल का सेवन किया। इनमें मात्र 40 बच्चे ही बीमार हुए। अभिभावक मानसिंह पुत्र बदा डामोर सहित तीन अन्य अभिभावकों ने तहसीलदार के समक्ष कहा कि साहब सभी बच्चे दाल चावल खाने से ही बीमार हुए है इसकी जांच होनी चाहिए।

Updated On:
11 Jul 2019, 06:13:34 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।